शाजापुर से 9 किमी दूर ट्रकों की भिड़ंत, हाईवे 12 घंटे जाम 

Lalit Saxena

Publish: Nov, 30 2016 10:54:00 (IST)

Shajapur, Madhya Pradesh, India
शाजापुर से 9 किमी दूर ट्रकों की भिड़ंत, हाईवे 12 घंटे जाम 

नैनावद की छोटी पुलिया पर सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात दो ट्रकों की भिड़ंत हो गई। इसमें दो लोग घायल हो गए। इन्हें जिला अस्पताल लाया गया।

शाजापुर. जिला मुख्यालय से 9 किमी दूर नैनावद की छोटी पुलिया पर सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात दो ट्रकों की भिड़ंत हो गई। इसमें दो लोग घायल हो गए। इन्हें जिला अस्पताल लाया गया। बीच पुलिया पर भिडं़त से हाईवे जाम हो गया। पुलिस ने वैकल्पिक व्यवस्था कर वाहनों को निकाला, लेकिन जाम पूरी तरह से खुलने में 12 घंटे से ज्यादा का समय लग गया।

इंदौर जा रहे ट्रक से टकरा गया
नैनावद की छोटी पुलिया पर केले लेकर दिल्ली से महाराष्ट्र जा रहे ट्रक की महाराष्ट्र से लकड़ी का बुरादा लेकर धौलपुर से इंदौर जा रहे ट्रक से टकरा गया। भिडं़त में चालक बंटू पिता कल्लू ठाकुर और क्लीनर राकेश पिता रामखिलाड़ी दोनों निवासी धौलपुर गंभीर घायल हो गए। इन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया गया। 



truck accident in shajapur on highway

भिड़ंत के बाद कतारें लग गईं
भिड़ंत के बाद कतारें लग गईं। दोनों ट्रकों का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। इस कारण इन्हें हटाया नहीं गया। ऐसी स्थिति में दोनों ओर वाहन खड़े होते चले गए। सुबह साढ़े 6  बजे मक्सी सहित लालघाटी और यातायात पुलिस जवान पहुंचे तब तक जाम 10 किमी तक पहुंच गया। एसडीओपी देवेंद्र यादव, लालघाटी टीआई अर्जुनसिंह मुजाल्दे, मक्सी टीआई उदयसिंह अलावा, यातायात प्रभारी पीके व्यास ने जाम खुलवाने की मशक्कत शुरू कर दी।

वैकल्पिक मार्ग भी हुआ बंद
पुलिसकर्मियों ने बस, मिनी ट्रक और कारों को निकालने के लिए वैकल्पिक मार्ग बनाना शुरू किया। डंपर से मिट्टी डलवाई। इसके बाद जब मार्ग बना तो वाहनों और छोटी कार को निकालना शुरू किया। धीरे-धीरे करके जाम खुलने लगा था कि मिट्टी धंस गई। इससे फिर जाम लग गया। 

12 घंटे से ज्यादा समय तक मशक्कत
जाम खुलवाने में पुलिस को मशक्कत करना पड़ी। दुर्घटना के 12 घंटे से भी ज्यादा समय के बाद शाम 5 बजे यातायात धीरे-धीरे सुचारु हुए। जाम खुलने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली। दुर्घटनाग्रस्त ट्रकों को हटाने के लिए जेसीबी की मदद लेना पड़ी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned