एसडीएम ने एनजीओ का रिकॉर्ड किया जब्त

Sheopur, Madhya Pradesh, India

एसडीएम ने एनजीओ का रिकॉर्ड किया जब्त

शाला त्यागी आदिवासी बालिकाओं को शिक्षा देने के नाम पर बड़ौदा में चल रहे एक एनजीओ (गैर शासकीय संगठन) के कार्यालय पर छापामारा और गड़बड़ी मिलने पर रिकार्ड भी जब्त कर लिया

श्योपुर. शाला त्यागी आदिवासी बालिकाओं को शिक्षा देने के नाम पर बड़ौदा में चल रहे एक एनजीओ (गैर शासकीय संगठन) के कार्यालय पर छापामारा और गड़बड़ी मिलने पर रिकार्ड भी जब्त कर लिया। एसडीएम की इस कार्यवाही के बाद अन्य फर्जी एनजीओ में हड़कंप मच गया है।

बताया गया है कि हाड़ौती आदिम जनजाति परिषद समिति कोटा द्वारा बड़ौदा क्षेत्र के आदिवासी बाहुल्य गांवों में 14 वर्ष तक की आदिवासी शाला त्यागी बच्चियों को पढ़ाने का दावा किया जा रहा था लेकिन प्रशासन को इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई, लिहाजा बुधवार को एसडीएम श्योपुर आरके दुबे बड़ौदा पहुंचे और एक घर में चल रहे संस्था के कार्यालय पर छापा मारा। इस दौरान मौजूद संस्था प्रतिनिधि ने बताया कि हम 1800 बच्चियों को पढ़ा रहे हैं, लेकिन वो भी संतुष्टिपूर्ण जवाब नहीं दे पाया।

यही वजह है कि एसडीएम दुबे ने सूची व अन्य रिकार्ड जब्त कर दिया। जिसकी जांच कराई जाएगी। यहां बता दें कि जिले में आदिवासियों के नाम पर लगभग एक सैकड़ा एनजीओ संचालित हो रहे हैं, लेकिन अधिकांश एनजीओ कागजों में ही चल रहे हैं। इसी गंभीर मुद्दे को पत्रिका ने अपने 26  सितंबर के अंक में एक सैकड़ा एनजीओ फिर भी बदलाव शून्य शीर्षक से प्रमुखता से प्रकाशित किया। जिसके बाद बुधवार को एसडीएम ने ये कार्यवाही की है।



"संस्था की गतिविधियों में गड़बड़ी नजर आ रही है, इसलिए सूची जब्त कर ली है। चूंकि बच्चियों को पढ़ाने के नाम पर ये शासन से एड ले रहे हैं, लिहाजा सूची को क्रॉस चेक कराया जाएगा।"
आरके दुबे एसडीएम, श्योपुर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned