छात्रा प्रेमी के साथ पकड़ी गई, दस दिन से स्कूल से थी लापता

Siddharthnagar, Uttar Pradesh, India
छात्रा प्रेमी के साथ पकड़ी गई, दस दिन से स्कूल से थी लापता

गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को एसपी ने दिया पांच हजार का पुरस्कार

सिद्धार्थनगर. नौगढ़ ब्लॉक के धेंसा नानकार गांव में स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय से सात जुलाई शाम से गायब छात्रा को जोगिया कोतवाली पुलिस ने सोमवार को प्रेमी संग गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने पुलिस टीम की पांच हजार रुपये का पुरस्कार दिया है।


सात जुलाई की शाम शहर से सटे एक गांव की कक्षा आठ में पढ़ने वाली छात्रा विद्यालय परिसर से लपता हो गई थी। उसके लापता होते ही शिक्षा विभाग से लेकर पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया था। मामला बड़ा होने की वजह से एसपी सत्येन्द्र कुमार ने गम्भीरता से लेते हुए पुलिस टीम का गठन कर दिया था। छात्रा की बरामदगी को लेकर जोगिया कोतवाली पुलिस ने जिले के सम्भावित सभी स्थलों के अलावा आसपास के जिलों व पड़ोसी मुल्क नेपाल में भी मुखबिर का जाल बिछा कर छानबीन शुरू कर दी थी। पर सफलता नहीं मिल पा रही थी। 

सोमवार की सुबह जोगिया कोतवाल विनोद सिंह को सूचना मिली कि सजनी चौराहा पर संदिग्ध अवस्था में एक लड़की व लड़का गोरखपुर जाने के इंतजार में साधन की तलाश कर रहे हैं। सूचना पर वह अपने साथ एसआई अजय सिंह, अवधेश कुमार सिंह, सिपाही राणा प्रताप यादव, छत्रपति यादव व महिला सिपाही नीलम यादव को लेकर मौके पर पहुंचे तो दो छिपने की कोशिश करने लगे। पुलिस उन्हें पकड़ कर थाने पर ले आई तो पता चला कि बरामद किशोरी धेंसा नानकार से लापता छात्रा है। युवक उसका प्रेमी है जिसके संग वह फरार हुई थी। 



किशोरी के साथ पकड़ा गया युवक राकेश पुत्र राजुकमार बसहवा थाना बृजमनगंज जिला महराजगंज का निवासी है। पुलिस ने युवक को धारा 363, 366 व एससी/एसटी एक्ट के तहत चालान कर जेल भेज दिया है। एसपी ने छात्रा को बरामद करने वाली पुलिस टीम को पांच हजार रुपये का पुरस्कार दिया है। 

एक भूल से गिरफ्तार हुए प्रेमी युगल
सात जुलाई को कस्तूरबा विद्यालय परिसर से फरार छात्रा छह जुलाई को विद्यालय पहुंची थी। उसी दिन उसने एक शिक्षिका की मोबाइल को चोरी कर लिया था। जिसे सात जुलाई को तलाशी के दौरान छात्रा के पास से बरामद कर लिया गया था। छात्रा ने मोबाइल चोरी करने के बाद उससे राकेश के पास फोन भी किया था। यही उसकी व उसके प्रेमी के गिरफ्तारी की वजह भी बनी। पुलिस ने डायल नम्बर को सर्विलांस पर लगा रखा था इससे लोकेशन पता चल रहा था। आखिर में चोरी के मोबाइल से प्रेमी को फोन करना उसकी गिरफ्तारी का कारण बनी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned