300 मीट्रिक क्विंटल सरकारी प्याज खराब, गरीबों को नहीं मिले दर्शन

suresh mishra

Publish: Jul, 17 2017 12:18:00 (IST)

Singrauli, Madhya Pradesh, India
300 मीट्रिक क्विंटल सरकारी प्याज खराब, गरीबों को नहीं मिले दर्शन

मंडी में उपभोक्ताओं के लिए आए प्याज में से 300 मीट्रिक क्विंटल खराब होने की कगार पर है। प्लेटफार्म पर प्याज के ढेर को देखते हुए ग्राफ और बढऩे की आशंका है।


रत्नेश दमामी @ सिंगरौली। मंडी में उपभोक्ताओं के लिए आए प्याज में से 300 मीट्रिक क्विंटल खराब होने की कगार पर है। प्लेटफार्म पर प्याज के ढेर को देखते हुए ग्राफ और बढऩे की आशंका है। खराब प्याज की आंकलन रिपोर्ट कमेटी को सौंपी गई है। इस बीच बदूब बढ़ती देख रविवार से प्रशासन के आदेश पर प्याज हटाने का कार्य शुरू हो गया। प्याज का डिस्पोजल देर रात तक खत्म होने की संभावना है।

हालांकि कलेक्टर अनुराग चौधरी ने शनिवार सुबह ही दोनों प्लेटफार्म से प्याज हटाने के निर्देश दिए थे। लेकिन समय सीमा खत्म होने के बाद भी मंडी से खराब प्याज नहीं हटाया जा सका।

दूसरे दिन शाम तक दोनों ही प्लेटफार्म सड़े गले प्याज से अटे पड़े थे। सडऩ के कारण सांस लेना भी दुश्वार था। मौके पर मौजूद अधिकारी से लेकर कार्मिक मुंह पर रुमाल बांधे नजर आए।

जेसीबी से कराया जा रहा डिस्पोजल
प्याज की दुर्गंध का दायरा रविवार को और बढ़ गया। बदबू मंडी से थाना रोड तक पहुंच गई। जानकारों का कहना हैं कि बेस लाइन का सारा खराब प्याज ऊपर आ गया है। अगले दो दिन तक छुटकारा संभव नहीं है। क्योंकि प्लेटफार्म रविवार शाम तक खाली नहीं हो पाए थे। सोमवार तक बदबू बनी रह सकती है। खराब प्याज का मंडी में ही डिस्पोजल किया जा रहा है। जेसीबी से खाई खुदवाकर डलवाया जा रहा है। प्रत्यक्षदॢशयों के अनुसार प्याज खाई में डालने की बजाय बाहर अधिक बिखरा था। नगर निगम के सफाई दस्ते की भी मदद ली जा रही है।  

कमेटी का गठन
10 जुलाई तक आए प्याज में से खराब कितना हो गया? इसके आकलन के लिए चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। इसमें खाद्य आपूर्ति, विपणन बोर्ड तथा हॉर्टिकल्चर डिपार्टमेंट को शामिल किया गया है। यह कमेटी खराब प्याज का आंकलन करेगी। वैसे, प्याज बिक्री से जुड़े अधिकारियों का मानना है कि 300 मीट्रिक क्विंटल खराब होने की आशंका है।

कितना प्याज खराब हुआ, इसके आंकलन के लिए कमेटी गठित की गई है। उसके आधार पर ही सरकार को खराब प्याज की रिपोर्ट भेजी जाएगी।
महेन्द्र प्रसाद पाण्डेय, जिला प्रबंधक विपणन बोर्ड सिंगरौली

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned