पुलिस ने तिहरे हत्याकांड में पाई बड़ी कामयाबी, चार में से एक आरोपी गिरफ्तार

Abhishek Gupta

Publish: Jun, 20 2017 10:57:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
 पुलिस ने तिहरे हत्याकांड में पाई बड़ी कामयाबी, चार में से एक आरोपी गिरफ्तार

सीतापुर पुलिस ने चर्चित तिहरे हत्याकांड के खुलासे का दावा किया है.

सीतापुर. आज सीतापुर पुलिस ने चर्चित तिहरे हत्याकांड के खुलासे का दावा किया है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में पकड़े गये आरोपी के पास से हत्याकांड में इस्तेमाल किया गया रिवाल्वर, 4 जिन्दा कारतूस, 61 हजार रुपये नगद व एक अपाचे बाइक बरामद की गयी है। पुलिस के मुताबिक हत्याकांड में शामिल 3 अन्य अभियुक्त भी चिन्हित कर लिए गए हैं और जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

जानकारी हो कि बीती 6 जून को दाल व्यापारी सुनील जायसवाल की उनके घर के सामने अज्ञात बदमाशों ने लूट के बाद हत्या कर दी थी। हत्यारों ने सुनील के अलावा उनकी पत्नी कामिनी व बेटे ऋतिक की भी गोली मार कर हत्या कर दी थी। जिससे उनकी भी मौत हो गयी थी। उसी मामले की तफ्तीश के लिए जिले की पुलिस के अलावा एसटीएफ को भी लगाया गया था। घटना के 14 दिन बीतने के बाद पुलिस अधिक्षक मृगेन्द्र सिंह (एसपी) ने हत्याकांड के खुलासे का दावा करते हुए बताया कि गिरफ्तार हुआ शक्श शरीफ बहुत ही शातिर अपराधी है और इस पर पहले से ही कई मामले अलग-अलग ज़िलों में दर्ज हैं। यही नहीं इसका नेटवर्क देश के कई हिस्सों में है। हालाँकि पुलिस ने इस मामले में शामिल बाकी अभियुक्तों के नाम बताने से इंकार कर दिया। पुलिस ने बताया पकड़े गये अभियुक्त की निशानदेही पर ही मृतक का चश्मा, दुकान की चाभी, लेजर रजिस्टर भी बरामद किये गए है।


शरीफ बोला, पुलिस के दबाव में जुर्म कबूला
वही पकड़े गये अभियुक्त शरीफ ने तिहरे हत्याकांड में शामिल होने से इंकार करते हुए मीडिया को बताया की पुलिस के दबाव के चलते ही उसने जुर्म कबूल किया है।


सीतापुर पुलिस करेगी वोडाफोन पर कार्यवाही
एसपी मृगेंद्र सिंह ने बताया कि शरीफ को पकड़ने में उन्हें और उनकी टीम को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। शरीफ रोजाना अपनी लोकेशन और मोबाइल नम्बर बदल लेता था। जिससे सर्विलांस टीम को काफी असहजता हुई। बिना आईडी के वोडाफोन कंपनी का सिम वह बार-बार लेता रहा और पुलिस को परेशान करता रहा। लिहाजा बिना आईडी से सिम देने पर पुलिस वोडाफ़ोन कंपनी पर भी कार्यवाही करेगी।


कांशीराम कॉलोनी में दूसरे के घर रहता था शरीफ
एसपी मर्गेंद्र सिंह ने बताया कि कांशीराम कॉलोनी में जहीदुल बानो पत्नी स्व मुख़्तार अहमद के घर रहता था। एसपी ने बताया कि लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक शरीफ लोगों के घर जबरन कब्ज़ा करता था और आये दिन परिवार सहित ठिकाना बदलता था।

अखिलेश ने दिया था परिवार को आश्वासन-

सपा सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज तिहरा हत्याकांड की पीड़ित पुत्रियों शिवानी और ऋचा से मुलाकात की। उन्होंने कहा था कि इस मामले को वह विधानसभा में उठाएंगे और योगी सरकार से सीबीआई जांच किये जाने की मांग करेंगे। अखिलेश ने चलते चलते तक बेटियों का पूरा साथ दिए जाने का आश्वासन दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned