आईपीएल-2017 : कोलकाता को हरा मुम्बई फाइनल में

Shankar Sharma

Publish: May, 19 2017 11:27:00 (IST)

Sports
आईपीएल-2017 : कोलकाता को हरा मुम्बई फाइनल में

मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 20-20 के दूसरे क्वालिफायर में कोलकाता नाइटराइडर्स को 6 विकेट से शिकस्त देकर फाइनल में प्रवेश किया

बेंगलूरु. मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 20-20 के दूसरे क्वालिफायर में कोलकाता नाइटराइडर्स को 6 विकेट से शिकस्त देकर फाइनल में प्रवेश किया। रविवार को खेले जाने वाले फाइनल में मुम्बई का मुकाबला राइजिंग पुणे सुपरजोएंट्स से होगा। मुम्बई ने 108 रन का लक्ष्य 14.3 ओवर में 4 विकेट खोकर हासिल किया। मुम्बई की ओर से कृणाल पांड्या ने सर्वाधिक 42 रन की नाबाद पारी खेली। उन्होंने 30 गेंदों को सामना कर 7 चौके लगाए।

match
 



















बुमराह व कर्ण शर्मा की शानदार गेंदबाजी
इससे पूर्व जसप्रीत बुमराह (3 ओवर में 7 रन पर 3 विकेट) की स्विंग और कर्ण शर्मा (4 ओवर में 16 रन पर 4 विकेट) की स्पिन गेंदों का जादू  कोलकाता नाइटराइडर्स पर ऐसा चढ़ा कि पूरी टीम 18.5 ओवर में ही 107 रन पर ढेर हो गई।

एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में शुक्रवार को आईपीएल-2017 के दूसरे क्वालिफायर मैच में मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया। दूसरे ओवर की तीसरी गेंद पर बूमराह ने क्रिस लिन (4) को आउट कर शुरुआत कर दी। सुनील नरैन (10) ने सिक्सर लगाकर कुछ हाथ खोले, लेकिन कर्ण शर्मा की स्पिन पर गच्चा खा गए। बूमराह ने रॉबिन उथप्पा (1) को एलबीडब्ल्यू किया तो कर्ण ने कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर (12) को पवेलियन भेजकर टीम की कमर पूरी तरह तोड़ दी। गौतम कर्ण की घूमती गेंद को डीप स्क्वॉयर लेग के ऊपर से छक्के के लिए भेजना चाहते थे पर  फेल हो गए। इसके बाद सूर्यकुमार यादव और इशांक जग्गी ने पारी संभाली। पर बड़ा स्कोर नहीं बना पाए।
match




















31 रन पर ही गिर गए थे 5 विकेट
केकेआर की बल्लेबाजी के ढहने का आलम ये था कि एक समय उसने अपने 5 विकेट सिर्फ 31 रन पर ही खो दिए थे। उस समय लगने लगा था कि रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरु को इसी सीजन में सबसे कम आईपीएल स्कोर 49 रन पर आउट करने वाली ये टीम खुद भी कहीं इस रिकॉर्ड को न तोड़ दे। लेकिन सूर्य कुमार यादव (25 गेंद में 31 रन) और इशांक जग्गी (28) ने छठे विकेट के लिए 56 रन जोड़कर 100 रन के पार जाने का आधार दिया। जग्गी को भी कर्ण ने ही बाहर भेजा। फिर विकेट धड़ाधड़ गिरे और केकेआर 18.5 ओवर में सभी विकेट खोकर 107 रन ही बना पाया।

match




















नहीं था कर्ण की स्पिन का कोई भी तोड़

नॉकआउट में आईपीएल इतिहास के दूसरे सबसे सफल गेंदबाज हरभजन सिंह को न लेकर कर्ण को बरकरार रखते हुए रोहित शर्मा ने सभी को सवाल करने का मौका दे दिया था, पर कर्ण की स्पिन का तोड़ किसी के पास नहीं दिखा और एक के बाद एक सभी उसके जाल में फंसते चले गए।

सात साल में दूसरी बार नहीं खेले यूसुफ

कोलकाता नाइटराइडर्स ने वर्ष 2011 में यूसुफ पठान को अपनी टीम में शामिल करने के बाद सिर्फ दूसरी बार किसी मैच में बाहर बैंच पर बैठाया। आईपीएल में सबसे तेज अर्धशतक का रिकॉर्ड रखने वाले यूसुफ पठान इससे पहले वर्ष 2014 में आरसीबी के खिलाफ बाहर बैठे थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned