भूमिगत कचरा कंटेनर पर अभी और सोच-विचार

Mukesh Sharma

Publish: May, 19 2017 12:33:00 (IST)

Surat, Gujarat, India
भूमिगत कचरा कंटेनर पर अभी और सोच-विचार

स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत शहर के लिंबायत और वराछा क्षेत्र के 75 कचरा कंटेनर को भूमिगत करने के मनपा

सूरत।स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत शहर के लिंबायत और वराछा क्षेत्र के 75 कचरा कंटेनर को भूमिगत करने के मनपा प्रशासन के प्रस्ताव को स्थाई समिति ने फिलहाल ब्रेक लगा दिया है। समिति का मानना है कि राज्य ही नहीं, देशभर में इस तरह के पहले काम पर अभी और जानकारी जुटानी जरूरी है, ताकि बाद में कोई दिक्कत पेश नहीं हो।

मनपा की स्थाई समिति की बैठक में गुरुवार को कई कामों को मंजूरी दी गई। वराछा जोन के विभाजन संबंधी प्रशासन के प्रस्ताव को यह कहकर लौटा दिया गया कि क्षेत्रीय संतुलन, जिसमें आबादी, प्रोजेक्ट आदि शामिल हैं, बैठाया जाए। समिति अध्यक्ष राजेश देसाई ने कहा कि विभाजन संबंधी मांग प्रशासनिक व्यवस्था को सरल करने के लिए है, इसका इसमें खास ध्यान होना चाहिए। इसके अलावा वेस्टर्न रीजन में पहली बार कचरा कंटेनर को भूमिगत करने के प्रस्ताव को मुल्तवी रखा गया।

इसमें और अभ्यास की जरूरत बताई गई, जिससे प्रकल्प करने के बाद किसी किस्म की नई परेशानी खड़ी नहीं हो। उन क्षेत्र में माध्यिमक शिक्षा के लिए नए सत्र से उर्दू और गुजराती माध्यम की नई शाला शुरू करने की अनुमति प्रदान की गई। समिति अध्यक्ष ने बताया कि उन क्षेत्र में गुजराती माध्यम की शाला नहीं होने से विद्यार्थियों की असमय पढ़ाई छूटने की आशंका रहती है। दूर के स्कूलों में ट्रैफिक की समस्या को देखते हुए अभिभावक बच्चों को नहीं भेजते हैं। उन्होंने कहा कि उन पॉकेट में उर्दू माध्यम के अलावा गुजराती माध्यम की सुमन शाला को इसी सत्र से शुरू किया जाएगा।

ब्रिजों के काम को मंजूरी

दो फ्लाईओवर ब्रिजों के टेंडर को समिति ने मंजूरी दी। वेड दरवाजा जंक्शन के साथ कतारगाम दरवाजा जंक्शन पर फ्लाईओवर ब्रिज ईपीसी पद्धति से बनेगा। इसके लिए रणजीत बिल्कोन के 41 करोड़ रुपए के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। सूरत-कडोदरा मेन रोड पर मिडिल रिंग रोड जंक्शन (पूणा पाटिया) के बीआरटीएस रूट के अनुरूप तीन गुणा तीन लेन फ्लाईओवर ब्रिज को भी ईपीसी पद्धति से बनाने के रणजीत बिल्कोन के 29.45 करोड़ रुपए के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned