वाघेच में 7 वर्षों से नहीं बज रही फोन की घंटी

Mukesh Sharma

Publish: Mar, 20 2017 04:51:00 (IST)

Surat, Gujarat, India
वाघेच में 7 वर्षों से नहीं बज रही फोन की घंटी

देश में डिजिटल इंडिया की बाते जोरशोर से हो रही है। वहीं बारडोली तहसील के वाघेच गांव में पिछले सात साल

बारडोली।देश में डिजिटल इंडिया की बाते जोरशोर से हो रही है। वहीं बारडोली तहसील के वाघेच गांव में पिछले सात साल से टेलीफोन तथा इन्टरनेट सेवाएं बंद पड़ी है। गांव में ज्यादातर एनआरआई की आबादी है। लोगों को बीएसएनएल के लैंडलाइन तथा इन्टरनेट सेवा बंद होने से काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पिछले सात साल पूर्व सड़क निर्माण कार्य के दौरान वायर कट जाने के बाद बीएसएनएल की ओर से नए वायर मुहैया नहीं किए गए, जिससे गांव में सात साल से टेलीफोन की घंटी नहीं बजी है।

वर्ष 2010 में बारडोली-नवसारी मार्ग का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। इसी दौरान बीएसएनएल के केबल कटने से क्षेत्र के करीब 7 से अधिक गांवों के टेलीफोन तथा इन्टरनेट सेवा बंद हो गई थी। काफी शिकायतों के बाद तीन साल बाद 2013 में कुछ गांवों में टेलीफोन सेवाएं शुरू कर दी गई। वहीं वाघेच गांव के लोग सात साल बाद भी टेलीफोन सेवा के लिए इंतजार कर रहे है। गांव में 2010 से पहले कई टेलीफोन और इन्टरनेट के कनेक्शन थे। गांव में ज्यादातर एनआरआई की आबादी होने के कारण लोग विदेश में बात करने के लिए टेलीफोन और इन्टरनेट का उपयोग करते थे। वहीं बीएसएनएल के अधिकारियों की लापरवाही के कारण लोगों को अब निजी कंपनियो का सहारा लेना पड़ रहा है।

 ग्रामीणों ने बताया कि इस समस्या को लेकर विभाग से कई बार शिकायत की गई, इसके बावजूद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। लोगों को मजबूरन निजी कंपनियों से महंगी इन्टरनेट सेवाएं लेनी पड़ रही है। ग्रामीणों ने परेशान होकर अब विभाग से शिकायत करना ही बंद कर दिया है। एक ओर सरकार प्रत्येक गांव को इन्टरनेट से जोडऩे की बात कर रही हैं, वहीं दूसरी ओर जो गांव पहले से ही जुड़ा था इसकी सेवाएं बंद कर दी गई है। अधिकारियों का कहना है कि गाँव तक कनेक्शन पहुंचाने इतना केबल नहीं है। बीएसएनएल के अधिकारियों की लापरवाही के कारण ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है।

वाघेचा गांव निवासी रेखा पटेल ने बताया कि सरकार एक ओर डिजिटल इंडिया की बात कर रही है, वहीं दूसरी ओर बीएसएनएल के अधिकारियों की लापरवाही के कारण कई गांवों के वर्षों से टेलीफोन व इंटरनेट सेवाएं बंद है।

केबल उपलब्ध नहीं

&सड़क निर्माण कार्य चलने से टेलीफोन सेवा बंद हो गई है। टेलीफोन सेवाएं बहाल होने में अभी कई दिन लग सकते हैं। जहां तक वाघेच गांव की बात है हमारे पास केबल नहीं होने से इस गांव में कभी भी टेलीफोन सेवा शुरू नहीं हो सकती। हमें नया केबल ही नहीं दिया जा रहा। एचएस पटेल,  मुख्य अभियंता, बीएसएनएल बारडोली

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned