सूरत स्टेशन पर वाई-फाई शुरू

Mukesh Sharma

Publish: Mar, 20 2017 09:37:00 (IST)

Surat, Gujarat, India
सूरत स्टेशन पर वाई-फाई शुरू

रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने शनिवार को मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर आयोजित समारोह में पश्चिम

सूरत।रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने शनिवार को मुंबई के लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर आयोजित समारोह में पश्चिम रेलवे के सूरत, राजकोट और इंदौर स्टेशनों पर हाई स्पीड वाई-फाई सुविधा का उद्घाटन किया। इसके अलावा उन्होंने पश्चिम रेलवे द्वारा स्वदेशी तकनीक पर बनाए गए मेधा रेक से परिचालित उपनगरीय ट्रेन (ईएमयू) को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
रेलमंत्री ने पश्चिम और मध्य रेलवे के महाप्रबंधक डी.के. शर्मा तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सूरत, राजकोट और इंदौर स्टेशनों पर हाई स्पीड वाई-फाई सुविधा यात्रियों को समर्पित की।

वाई-फाई सेवा रेलटेल तथा गूगल के सौजन्य से उपलब्ध कराई गई है। इन स्टेशनों पर यात्री वाई-फाई सेवा के माध्यम से हाई डेफिनेशन वीडियो देख सकेंगे। साथ ही सफर में मनोरंजन के लिए नया गेम डाउनलोड कर सकेंगे। अब तक 115 स्टेशनों पर रेल वायर वाई-फाई सेवा उपलब्ध करा दी गई है। प्रभु ने 'मेक इन इंडियाÓ के तहत पश्चिम रेलवे द्वारा स्वदेशी तकनीक पर बनाए गए मेधा रेक से परिचालित उपनगरीय ट्रेन (ईएमयू) को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इसके अलावा उन्होंने चर्चगेट स्टेशन पर सौर ऊर्जा प्रणाली का भी उद्घाटन किया। यह प्रणाली 75 लाख रुपए की लागत से लगाई गई है। इस प्लांट की क्षमता 100 केडब्ल्यूपी है, जिससे हर साल 1.5 लाख यूनिट ऊर्जा का उत्पादन होगा।  

मेधा रेक की खासियत


'मेक इन इंडियाÓ मेधा रेक स्वदेशी तकनीक से बना देश का पहला रेक है। इस रेक में मेसर्स मेधा सर्वोड्राइव द्वारा उपलब्ध कराई गई उच्च क्षमता वाली 3 फेज की संचालक शक्ति प्रणाली लगी हुई है। रेक में मॉड्यूलर रूफ माउंटेड फोस्र्ड वेंटिलेशन सिस्टम लगा हुआ है, जो एक घंटे के अंदर 16 हजार क्यूबिक मीटर हवा का प्रवाह करता है। रेक के डिब्बे सीधी साइड वॉल के साथ स्टेनलेस स्टील के बने हुए हैं। स्लाइडिंग डोर वजन में हल्के हैं, जिन्हें आसानी से खिसकाया जा सकता है। रेक में ड्राइवर गार्ड के साथ-साथ यात्रियों से भी संवाद स्थापित कर सकता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned