बोपन्ना और बालाजी ने दिलाया भारत को विश्व ग्रुप प्लेऑफ का टिकट

Tennis
बोपन्ना और बालाजी ने दिलाया भारत को विश्व ग्रुप प्लेऑफ का टिकट

बोपन्ना-बालाजी ने उज्बेकिस्तान के फारुख दुस्तोव-संजार फैजीव को 6-2, 6-4, 6-1 से हराकर भारत की बढ़त को अपराजेय 3-0 कर दिया।

बेंगलूरु। अनुभवी रोहन बोपन्ना और एन. श्रीराम बालाजी की जोड़ी ने उज्बेकिस्तान की जोड़ी फारुख दुस्तोव और संजार फैजीव को शनिवार को लगातार सेटों में 6-2, 6-4, 6-1 से हराकर भारत को डेविस कप एशिया-ओसनिया जोन ग्रुप एक से विश्व ग्रुप प्लेऑफ में पहुंचा दिया। भारत ने दूसरे दौर के इस मुकाबले में पहले दिन रामकुमार रामनाथन और प्रजनेश गुणेश्वरन के शानदार प्रदर्शन की बदौलत 2-0 की बढ़त बनाई थी और अब बोपन्ना-बालाजी ने युगल मैच जीतकर भारत को उज्बेकिस्तान के खिलाफ 3-0 की अपराजेय बढ़त दिला दी। गैर खिलाड़ी कप्तान और पूर्व युगल दिग्गज महेश भूपति ने पहली बार डेविस कप में देश की कप्तानी संभाली और टीम को विश्व ग्रुप प्लेऑफ में पहुंचा दिया। भूपति ने इस मुकाबले के लिए युवा खिलाडिय़ों की जो टीम चुनी, उसने अपने कप्तान का भरोसा कायम रखा।

Photo published for Bopanna, Balaji put India in World Group play-offs

बोपन्ना और बालाजी की भारतीय जोड़ी ने मैच में 16 एस लगाए और आठ में से पांच बार विपक्षी टीम की सर्विस तोड़ी। उज्बेक जोड़ी मैच में एक बार भी भारतीय जोड़ी के खिलाफ ब्रेक अंक हासिल नहीं कर पाई। बोपन्ना और बालाजी ने अपनी पहली सर्विस पर 92 फीसदी अंक और दूसरी सर्विस पर 94 फीसदी अंक जीते। दुस्तोव और फैजीव के लिए यह आंकड़ा क्रमश: 62 फीसदी और 50 फीसदी रहा। उज्बेक जोड़ी ने मैच में छह डबल फॉल्ट भी किए, जो उन्हें भारी पड़े।

बोपन्ना-बालाजी ने मैच में कुल 88 अंक जीते, जबकि विपक्षी जोड़ी 48 अंक ही जीत पाई। पहला सेट आसानी से 6-2 से जीतने के बाद बोपन्ना-बालाजी को दूसरे सेट में थोड़ी चुनौती मिली, लेकिन उज्बेकिस्तान के खिलाड़ी बोपन्ना के विशाल अनुभव से पार नहीं पा सके।



विश्व युगल रैंङ्क्षकग में 24वें स्थान के साथ बोपन्ना इस मुकाबले के सबसे शीर्ष युगल खिलाड़ी थे। बालाजी की युगल रैंङ्क्षकग 223 है, जबकि दुस्तोव की 1201 और फैजीव की 437 है। उज्बेकिस्तान को अपने शीर्ष खिलाड़ी डेनिस इस्तोमिन के चोट के कारण इस मुकाबले से बाहर हो जाने का भारी नुकसान उठाना पड़ा। भारतीय जोड़ी ने पहले दो सेट जीतने के बाद तीसरे सेट में 5-0 की बढ़त बना ली। उज्बेक जोड़ी ने छठे गेम में जाकर बड़ी मुश्किल से अपनी सर्विस बचाई, लेकिन बोपन्ना और बालाजी ने सातवें गेम में मामला समाप्त कर दिया।

मुकाबले में 3-0 की अपराजेय बढ़त बनाने के बाद रविवार को होने वाले उलट एकल अब परिणाम के लिहाज से औपचारिकता मात्र रह गए हैं और अब ये बेस्ट ऑफ थ्री में खेले जायेंगे। उलट एकल में रामकुमार रामनाथन का मुकाबला संजार फैजीव से और प्रजनेश का मुकाबला तैमूर इस्माइलोव से होगा। भारत का मुकाबला विश्व ग्रुप में अब सितंबर में होगा, जिसकी टीम का फैसला बाद में होगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned