विंबलडन जीतना सपने के सच होने जैसा : मुगुरुजा

Nikhil Sharma

Publish: Jul, 17 2017 08:22:00 (IST)

Tennis
विंबलडन जीतना सपने के सच होने जैसा : मुगुरुजा

स्पेन की टेनिस खिलाड़ी गाíबने मुगुरुजा ने मानना है कि विंबलडन के महिला एकल वर्ग के फाइनल में अमेरिका की वीनस विलियम्स को मात देकर खिताब जीतना सपने के सच होने जैसा है।

मेड्रिड।  मुगुरुजा ने स्पेन के अखबार मार्का से बात करते हुए कहा, "विलियम्स बहनों को मात देने से आपको अहसास होता है कि आप टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी हो।" मुगुरुजा 2015 विंबलडन के फाइनल में सेरेना विलियम्स से हार गई थीं।

स्पेनिश खिलाड़ी ने कहा, "मैंने सोचा था कि मैं 2015 के बाद से कभी विंबलडन नहीं जीत पाऊंगी क्योंकि मैंने जीतने का एक मौका गंवा दिया था। फाइनल में पहुंचना और जीत हासिल करना बेहद मुश्किल होता है।

जब मैं वीनस के खिलाफ खेल रही थी, तो सोच रही थी कि मुझे ऐसा मौका दोबारा नहीं मिलेगा।" मुगुरुजा ने वीनस को सीधे सेटों में 7-5, 6-0 से मात देते हुए शनिवार को यह खिताब जीता था।

उन्होंने इससे पहले 2016 में फ्रेंच ओपन पर भी कब्जा जमाया था। उन्होंने कहा, "मैं जिस दिन जीती उस दिन जल्दी सोने में सफल रही, लेकिन फिर मैं जल्दी उठ गई और सोचने लगी कि उस रात क्या हुआ।"

उन्होंने कहा, "मैं फिर फ्रेंच ओपन जीत से सीखने लगी और चीजों को शांती से लेने और उनका आनंद उठाने लगी। मैं पेरिस में जीतने के बाद भी खेलने उतरी थी, इसलिए अब मैं अपनी सफलता का आंनद उठाना चाहती हूं।"

उन्होंने कहा, "मैं हमेशा अपने पैर जमीन पर रखना चाहती हूं। यह जीत मेरे जिंदगी जीने के तरीके को नहीं बदलने वाली है।"

उन्होंने कहा, "हर कोई कह रहा है कि इससे मेरी जिंदगी बदल जाएगी, लेकिन मेरा कहना है कि ऐसा नहीं होगा। मुझे दवाब से गुजरना होगा, लेकिन मैं बदलूंगी नहीं।"

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned