गर्म थपेड़ों के बीच स्कूल जाना मजबूरी

Widush Mishra

Publish: Apr, 22 2017 12:19:00 (IST)

Tikamgarh, Madhya Pradesh, India
गर्म थपेड़ों के बीच स्कूल जाना मजबूरी

स्कूली बच्चों को दोपहर 12 और 1 बजे के पहले स्कूलों से छुट्टी नहीं मिलती।

टीकमगढ़. सूरज की तपन तेज होने से पूरा जिला इन दिनों गर्मी की चपेट में है। सुबह 8  बजे से ही गर्म हवा के थपेडे लोगों को परेशान कर रहे हैं। ऐसे में भी छोटे-छोटे बच्चों को पढ़ाई करने के लिए झुलसते हुए स्कूलों में जाना पड़ रहा है क्योंकि शिक्षा विभाग अपनी परिपाटी पर चलते हुए मई माह के पूर्व छुट्टी करने का मन नहीं बना पा रहा है। इस वर्ष गर्मी ने अप्रैल माह में अपने तीखे तेवरों से लोगों को परेशान कर दिया है। 

मई माह के अंतिम सप्ताह में नौतपा के दौरान होने वाली गर्मी अप्रैल माह के पहले हफ्ते से पड़ रही है। गर्म हवाओं के कारण घर से निकलना दूभर है परंतु स्कूली बच्चों को इन गर्म थपेडों का सामना प्रतिदिन करना पड़ रहा है। सुबह 10 बजे के बाद हालात  बदतर हो जाते हैं परंतु इन मासूम स्कूली बच्चों को दोपहर 12 और 1 बजे के पहले स्कूलों से छुट्टी नहीं मिलती।


बच्चे परेशान

 अब जरा धूप में स्कूली वाहनों में भरे बच्चों के घर तक पहुंचने की स्थिति का अंदाजा लगा सकते हैं। वहीं स्कूल प्रशासन बच्चों की छुट्टी तो 1 मई के बाद ही मानता है। इसलिए पिछले 15 दिनों से ऐसे किसी हालात पर प्रशासन ने ध्यान ही नहीं दिया। एक पखवाड़े से सनबर्न की स्थिति पैदा हो रही है। 

धूप में निकलने पर शरीर के अंग एवं चमड़ी झुलसती हुई महसूस होती है। ऐसे में बच्चों का विशेष ख्याल रखना चाहिए। शरीर में पानी की कमी एवं लगातार तेज धूप में रहने से स्थिति जानलेवा भी हो सकती है। शहर सहित जिले भर में दोपहर 11 बजे से शाम 4 बजे तक कुुछ ऐसी ही स्थिति बनी हुई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned