लोहड़ी पर्व: सर्द रात में बजे ढोल, निभाई रस्म

Lalit Saxena

Publish: Jan, 13 2017 10:56:00 (IST)

Ujjain, Madhya Pradesh, India
लोहड़ी पर्व: सर्द रात में बजे ढोल, निभाई रस्म

पंजाबी समाज द्वारा शुक्रवार रात को लोहड़ी पर्व श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया। फ्रीगंज गुरुद्वारे के सामने आग जलाकर पारंपरिक रंग-बिरंगी वेशभूषा में नृत्य करते हुए रेवड़ी, मक्का की आहुति दी गई। 

उज्जैन. पंजाबी समाज द्वारा शुक्रवार रात को लोहड़ी पर्व श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया। पंजाबियों के लिए लोहड़ी खास महत्व रखती है। फ्रीगंज गुरुद्वारे के सामने आग जलाकर पारंपरिक तौर पर रंग-बिरंगी वेशभूषा में ढोल की थाप में नृत्य करते हुए रेवड़ी, मक्काकी आहुति दी गई। 

तिल-गुड़ का बांटा प्रसाद
मक्का अन्य सामग्री अग्रि को समर्पित की रेवड़ी, तिल-गुड़ और मक्के की धानी आदि प्रसाद स्वरूप बांटी गई। ढोल की थाप पर जमकर नाच-गाना हुआ। युवक-युवतियों और नवविवाहित जोड़ों के लिए इस दिन का अपना महत्व है। 

दांपत्य जीवन के लिए मंगल कामना
लोहड़ी की जलती लकडिय़ों को साक्षी मानकर नए जोड़ों ने अपने दाम्पत्य जीवन के लिए मंगलकामना की, जिसकी नई शादी हुई हो या बच्चा हुआ हो उन्हें विशेष तौर पर बधाई दी गई।




lohri festival: celebrated with joy


पतंगों से सजा सांदीपनि आश्रम
मकर संक्रांति के अवसर पर अंकपात मार्ग स्थित श्री सांदीपनि आश्रम में शुक्रवार शाम पतंग शृंगार किया गया, शनिवार को तिल-गुड़ का महाभोग लगाकर आरती की जाएगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned