वृद्ध के गले में उलझी चायना डोर, 70 टांके आए, हालत गंभीर

Lalit Saxena

Publish: Jan, 14 2017 05:20:00 (IST)

Ujjain, Madhya Pradesh, India
वृद्ध के गले में उलझी चायना डोर, 70 टांके आए, हालत गंभीर

चायना डोर पर प्रतिबंध के बावजूद इसका कितना पालन किया गया ये तो जगजाहिर है और इसके दुष्प्रभाव का भी सभी को अंदाजा है। मकर संक्रांति को भी ऐसा ही एक उदाहरण सामने आया।

उज्जैन. चायना डोर पर प्रतिबंध के बावजूद इसका कितना पालन किया गया ये तो जगजाहिर है और इसके दुष्प्रभाव का भी सभी को अंदाजा है। मकर संक्रांति को भी ऐसा ही एक उदाहरण सामने आया। जब घर से गोपाल मंदिर दर्शन करने निकले 68 वर्षीय वृद्ध इसकी चपेट में आ गए। चायना डोर गले में अटकने की वजह से वृद्ध को गले, नाक, कान और होंठ पर 70 टांके आए हैं। डॉक्टरों के मुताबिक उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

गले में फंस गई चायना डोर
अंबर कॉलोनी निवासी दयाशंकर शर्मा सुबह दोपहर 12 बजे घर से गोपाल मंदिर के लिए एक्टिवा से निकले। इंदौर रोड की तरफ से हरिफाटक ब्रिज चढ़ते वक्त आधे रास्ते पर ही उनके गले में चायना डोर फंस गई। जिससे वे गंभीर रूप से जख्मी हो गए। दुर्घटना के बाद बेटे आशीष को फोन पर सूचना दी गई। आसपास के लोग ऑटो से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां उन्हें तुरंत ऑपरेशन थियेटर में ले जाया गया। ऑपरेशन के दौरान उन्हें गले, नाक, होंठ, नाक में 70 टांके आए। दयाशंकर फिलहाल बोल नहीं पा रहे हैं। उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।





थोड़ी गति होती तो बचना मुश्किल था
बेटे आशीष ने बताया पिता बेहद धीमी गति में वाहन चलाते हैं। यदि जरा भी गति तेज होती तो बचना मुश्किल था। दुर्घटना में पिता का इनर, शर्ट, बनियान सभी खून से लथपथ हो गई थी। रक्त स्त्राव रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि दुर्घटना कितनी गंभीर थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned