पुरवा विधानसभा सीट Ground Report  : किधर जाएगा लोध समुदाय BJP या  BSP, SP को चमत्कार की आस 

Rohit Singh

Publish: Feb, 17 2017 04:37:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
पुरवा विधानसभा सीट Ground Report  : किधर जाएगा लोध समुदाय BJP या  BSP, SP को चमत्कार की आस 

 इस बार लड़ाई तो बसपा और भाजपा में हैं। सपा तो लड़ाई से बाहर दिखती है। 

उन्नाव।  शाम 7 बजे का वक्त। मात्र एक स्ट्रीट लाइट के सहारे उजाले की तलाश में उन्नाव का उबड़-खाबड़ बस अड्डा। बस अड्डे से एक बस पुरवा जाने के लिए तैयार है और यात्री फ़टाफ़ट बस में चढ़ रहे हैं। थोड़ी ही देर में बस यात्रियों से खचाखच भर जाती है। इस बीच चुनावी चर्चा न हो ये कैसे संभव है। रिपोर्टर के थोड़ा पूछने पर लोग पुरवा विधानसभा क्षेत्र का हाल बताने ही लगते हैं। हालांकि नाम बताने से ज्यादातर लोग कतराते दिखे। शायद ये किसी का डर हो या सीधे तरीके से किसी पर हमला करने से बचना लेकिन लोगों ने अपने नाम न बताकर भी क्षेत्र की चुनावी स्थिति के बारे में सबकुछ बता दिया। 

unnao

करीब 55 साल के अधेड़ सुमेर का कहना है कि इस बार लड़ाई तो बसपा और भाजपा में हैं। सपा तो लड़ाई से बाहर दिखती है। बसपा के अनिल सिंह का दावा ज्यादा मजबूत है। 

तब तक बस के बाएं तरफ की पांचवीं सीट पर बैठे दो युवा कहते हैं कि इस बार क्षेत्र का लोधी वोट साक्षी महाराज की अपील के बाद भाजपा का समर्थन कर रहा है। अगर कुछ कट गया इसके बावजूद भी भाजपा की सीट निकल जायेगी। 

आँख पर लगे चश्मे को मटमैले अंगौछे से साफ़ करते हुए बूढ़े दादा कहते हैं कि उदयराज यादव 20 साल से विधायक हैं। इस दौरान उन्होंने क्षेत्र का कुछ भी विकास न करके अपना विकास किया है। इस बार जनता नए आदमी को चुनेगी। 

अपनी कंपकपी आवाज में दाढ़ी खुजलाते हुए मुल्ला जी कहते हैं कि बहन जी की रैली के बाद अब अनिल सिंह ही जीतेंगे। क्षेत्र में उनका व्यवहार बढ़िया है और बसपा राज में क़ानून व्यवस्था मजबूत रहती है। सबसे पीछे वाली सीट पर वृद्धा से पूछने पर वह कहती हैं 'चाहे जैकी सरकार बन जाए, हमका का मिलि जाइ। बहनजी जितीहैं गरीबन साथ गुंडई न हुई पायी।  . 

बहन जी की सीट निकलने की बात सुनकर आगे की सीटों पर बैठे वह लोग जो पहले पूछने पर कुछ भी बोलने से बच रहे थे वह अब तुरंत जवाब देने लगे हैं। कहते हैं मोदी जी ने बहुत काम किया है गरीबों के लिए। नोटबंदी से आतंकवाद ख़त्म हुआ है। पुरवा में हार जीत का रास्ता लोध समुदाय तय करेगा और वह भाजपा के साथ है। इस बार भाजपा प्रत्याशी उत्तम चंद्र लोधी की जीत तय है। इतने में कुछ लोगों ने कहा कि लोधी वोटर्स पर अनिल सिंह की पकड़ ज्यादा मजबूत हैं। अगर आधे से कम वोट भी उन्हें मिल जाता है। वह विधायक बन जाएंगे। 

कुल मिलाकर उन्नाव की पुरवा विधानसभा क्षेत्र में जीत उसी की होगी जिसको लोध समुदाय समर्थन करेगा। वही बसपा के अनिल सिंह और बीजेपी के उत्तम चंद्र लोधी दोनों की क्षेत्र के लोध समुदाय पर अच्छी पकड़ रखते हैं। वही साल 2014 चुनाव में उन्नाव से सांसद और इसी समुदाय से ताल्लुक रखने वाले साक्षी महाराज को जिताने में इस समुदाय ने बड़ी भूमिका निभायी थी। साक्षी महाराज भी क्षेत्र में जाकर लोधी समुदाय से एक बार फिर बीजेपी को चुनने की अपील कर रहे हैं। हालांकि इस वोट बैंक में बसपा के अनिल सिंह भी मजबूत पकड़ रखते हैं। 

अगर सपा की बात करें तो इस सीट पर पिछले कई विधानसभा चुनावों से वह काबिज रही है। क्षेत्र में परिवर्तन की लहर बन गयी है। इसके बावजूद सपा प्रत्याशी और मौजूदा विधायक उदयराज यादव भी एक बार फिर जीत की उम्मीद लगाए जोर-शोर से प्रचार अभियान में जुटे हैं और उन्हें उम्मीद है कि जनता एक बार फिर उन्हें मौक़ा देगी। 



Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned