दो कारों में आमने-सामने भिड़ंत, मां बेटा सहित तीन की मौत, पांच घायल

Hariom Dwivedi

Publish: Jul, 18 2017 08:20:00 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
दो कारों में आमने-सामने भिड़ंत, मां बेटा सहित तीन की मौत, पांच घायल

मृतकों के परिजनों ने बताया कि कैलाश अपनी मां बदामा के साथ उन्नाव में रहते थे। देर शाम को वह अपनी मां को लेकर मुड़िया खेड़ा थाना बिहार जा रहे थे। जहां उनकी भतीजी का जन्मदिन समारोह मनाया जा रहा था।

उन्नाव. दो कारों की आमने-सामने भिड़ंत में मां-बेटे सहित तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच लोग घायल हो गए। दुर्घटना सोमवार देर शाम बारा सगवर थाना क्षेत्र के लालकुआं-ऊंचागांव मार्ग पर हुई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि आवाज दूर तक सुनाई दी।

हादसे की जानकारी मिलते ही घटना स्थल पर बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए। मौके पर पुलिस भी पुहुंची। पुलिस ने गंभीर घायलों को स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र भिजवाया, जहां डॉक्टरों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल रिफर कर दिया। पुलिस ने मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतकों में मां-बेटा भी शामिल है, जो बर्थडे में शामिल होने जा रहे थे।


दर्दनाक हादसे में कैलाश पुत्र अमर सिंह व उनकी मां बदामा देवी निवासी उन्नाव और वैगन आर कार सवार रिंकू श्रीवास्तव की मौके पर मौत हो गई। जबकि मोहम्मद सोनू पुत्र अब्दुल सुल्तान निवासी कृष्णा नगर लखनऊ, बउवा पुत्र राजाराम पांडे निवासी लखनऊ, रोहित सिंह पुत्र कृष्ण लता सिंह निवासी हजरतगंज लखनऊ, नितिन मिश्रा निवासी लखनऊ, प्रतीक मिश्रा निवासी लखनऊ घायल हो गए। इन्हें उपचार के लिए बीघापुर स्थिति स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां से डॉक्टरों ने उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए जिला अस्पताल रिपर कर दिया।

बर्थडे सेलिब्रेट करने जा रहे थे
मृतकों के परिजनों ने बताया कि कैलाश अपनी मां बदामा के साथ उन्नाव में रहते थे। देर शाम को वह अपनी मां को लेकर मुड़िया खेड़ा थाना बिहार जा रहे थे। जहां उनकी भतीजी का जन्मदिन समारोह मनाया जा रहा था। अभी बारा सगवर थाना क्षेत्र के लाल कुंआ- ऊंचगांव मार्ग पर स्थित रघु खेड़ा के पास पहुंचे ही थे कि सामने से आ रही कार वैगनआर से उनकी जबरदस्त भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। टक्कर की आवाज दूर दूर तक सुनी गई। घटना की खबर जैसे ही परिजनों को मिली घर में मातम छा गया। हंसी-खुशी उल्लास के बीच रोना-पीटना मच गया। सभी परिजन जिला अस्पताल की तरफ भागे। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned