इतने करोड़ के घर में रहतीं हैं बीजेपी की ये विधायक, सात बंगलों की हैं मालकिन

Varanasi, Uttar Pradesh, India
 इतने करोड़ के घर में रहतीं हैं बीजेपी की ये विधायक, सात बंगलों की हैं मालकिन

योगी के आदेश पर दर्ज हुआ एफआईआर

वाराणसी. इलाबाद मेजा से बीजेपी विधायक नीलम करवरिया को पहली बार चुनाव लड़ने से ससुराल वालों ने मना कर दिया था। बता दें कि, 2014 लोकसभा चुनाव में इलाहाबाद संसदीय क्षेत्र से भाजपा उदयभान या उनकी पत्नी को उम्मीदवार बनाने को तैयार थी मगर उसके लिये उनकी जेल से रिहाई की शर्त रखी गई थी।




 वहीं उदयभान को जल्द बेल होने के आसार नहीं दिख रहे थे, तब पार्टी हाईकमान ने पत्नी नीलाम करवरिया को उम्मीदवार बनाने पर मोहर लगा दी थी, लेकिन उस समय परिवार के लोगों ने इसकी इजाजत नहीं दी थी। जिसके बाद 2017 चुनाव में नीलम करवरिया अपने परिवार की साख बचाने के लिए मैदान में उतरीं और जीतीं भी। 






इतनी संपति की हैं मालकिन, घर की कीमत है करोड़ों

यूपी विधानसभा 2017 चुनाव से पहले दिये गये एफिडेबिट के अनुसार, नीलम करवरिया के पास 19 करोड़ की संपति है। जिसमें 90.4 लाख की तो सिर्फ ज्वेलरी है। साथ ही मेजा विधायक गाड़ियों की भी शौकिन हैं। फिलहाल इनके पास रेनो डस्टर है, जो इन्होंने 2016 में खरीदी थी। वहीं सेंट्रों और टाटा सफारी भी है। जिसकी कीमत 8.5 लाख रूपए है।

बता दें कि बाहुबली की पत्नी के पास पिस्टल भी है, जिसकी कीमत 71 हजार रूपए है। वहीं बैक में 67 लाख रूपए हैं और खेत हैं जिसकी कीमत 2.65 करोड़ है, साथ ही 11.5 करोड़ के घर की मालकिन हैं। 




योगी के आदेश पर दर्ज हुआ एफआईआर


जेल में बंद नीलम करवरिया के पति बाहुबली  उदयभान करवरिया की मुश्किलें बढ़ गई हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर पुलिस हरकत में आ गई। सीएम के आदेश के बाद पुलिस ने सर्राफा व्यवसायी और सूरजभान करवरिया के बेटे वैभव करवरिया के बीच हुए विवाद में करवरिया बंधुओं पर एफआईआर दर्ज किया। 





इसमें वैभव करवरिया, राजकुमार वर्मा, सूरजभान, कपिलमुनि, उदयभान करवरिया के साथ सात-आठ अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुआ है। बता दें कि करवरिया बंधु पिछले तीन साल से विधायक जवाहर पंडित हत्याकांड में जेल में बंद हैं। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned