पीएम मोदी के गढ़ में बीजेपी को लग सकता है झटका, जानिए विधायक का रिपोर्ट कार्ड

Patrika Varanasi
 पीएम मोदी के गढ़ में बीजेपी को लग सकता है झटका, जानिए विधायक का रिपोर्ट कार्ड

बनारस के शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र की ग्राउंड रिपोर्ट

वाराणसी. यूपी विधानसभा चुनाव के तारीखों का ऐलान हो चुका है, सभी दल खुद को जनता का हितैषी बता कर चुनाव मैदान में आमने-सामने हैं। ऐसे में ये भी देखना जरूरी है कि अपने विधानसभा क्षेत्रों में नेताओं ने जो वादे किए थे, उन वादों की आखिर हकीकत क्या है? इसी के पड़ताल के लिए पत्रिका संवाददाता जब काशी के शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र में जब पहुंचे तो कई ऐसी चीजे सामने आई, जो विकास और राजनीति के बीच सच्चाइंयों से रूबरू करा गई। 


यह है शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र
2012 में समाजवादी पार्टी की लहर के बावजूद काशी की जनता ने जिन तीन सीटों को भाजपा की झोली में डाला उसमें से शहर उत्तरी भी एक है। शहर उत्तरी के विधायक हैं बीजेपी के रवीन्द्र जायसवाल। कड़ी टक्कर के बावजूद भी जनता ने रवीन्द्र जायसवाल पर भरोसा जताते हुए कमल के फूल पर बटन दबाया था और इस भरोसे के साथ रवीन्द्र को विधायक बनाया था कि उनकी परेशानिया व दुश्वारियां दूर हो सकें। लोगों को लगा था कि उनकी जिन्दगी से गंदगी दूर हो जाएगी और वो स्वच्छ वातावरण में खुशियों की सांस ले सकेंगे, लेकिन जनता की दुश्वारियां कम नहीं हुई और विधायक जी के पांच साल बीत गये। 


पिपरहवाघाट की बजबजाती नालियां और घूटता जीवन
शहर उत्तरी विधानसभा के हुकुलगंज स्थित पिपरहवाघाट की स्थिति बहुत ही दयनीय है। पिपरहवाघाट की जनता से बात करने पर पता चला कि हर तरफ गंदा पानी फैला हुआ है, नालियां बजबजाती रहती हैं और लोगों का जीना मुश्किल हो चुका है। क्षेत्र में बिजली के खम्भे भी नहीं है। स्थानीय लोगों ने बताया कि पिछले पांच सालों एक बार भी विधायक जी नहीं आये। लोगों ने कहा कि पिछली बार चुनाव के समय आये थे, अब फिर से चुनाव आ गया है शायद वोट मांगने फिर से आयें। 

देखें वीडियो-

पिपरहवाघाट निवासी करीम शाह ने बताया कि पिछले पांच सालों में एक बार भी विधायक जी नहीं आये। पिछले चुनाव के समय वोट मांगने के लिए आये थे, उसके बाद कभी नहीं दिखे। हर तरफ गंदा पानी लगा हुआ है, कोई देखने वाला भी नहीं है। करीम ने बताया कि इस समस्या को लेकर विधायक से लेकर जिला प्रशासन तक हर जगह शिकायत की, लेकिन किसी ने कुछ नहीं किया।

देखें वीडियो-

शाहजहां ने कहा कि बहुत मुश्किल से किसी तरह यहां जीवनयापन हो रहा है। इलाके में न शुद्ध पेयजल है, न सीवर और न ही बिजली के खम्भे हैं। घर के बाहर गंदा पानी बहता रहता है, जिससे आये दिन परिवार के लोग बिमार रहते हैं। 

देखें वीडियो-


रंगियामहाल में घरों के सामने से बहता खुला नाला, दुर्गन्ध से जीना मुश्किल
शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र का तेलियाबाग स्थित रंगियामहाल इलाका, जहां लोगों के घरों के सामने खुला नाला बहता है। नाले की दुर्गन्ध से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। वहीं नाला खुला होने के कारण दुर्घटनाएं भी होती रहती है। स्थानीय निवासी खालिक अंसारी ने बताया कि अभी पिछले महीने ही नाले में गिरने से एक बच्ची की मौत हो गयी थी। इसके बाद भी किसी ने नाले को ढकवाने के बारे में नहीं सोचा। क्षेत्रीय जनता ने अपने खर्चों से कुछ दूर तक नाले को ढ़कवाया है। उन्होंने बताया कि विधायक जी पिछले पांच सालों में एक बार भी नहीं आये। 

देखें वीडियो-


यह हाल है पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में उनके ही पार्टी के विधायक के विधानसभा क्षेत्र का। शहर उत्तरी के कई और क्षेत्रों में जाने पर ऐसा ही नजारा रहा और जनता के एक ही जवाब रहा कि पिछले पांच साल में विधायक जी क्षेत्र में नहीं दिखे। एक ओर पीएम मोदी के महत्वाकांक्षी योजना आईपीडीएस के तहत शहर में बिजली के खम्भों को हटाने व तारों को भूमिगत किया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर उनके ही पार्टी के विधायक के क्षेत्र में बिजली के खम्भे ही नहीं है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned