ऐसा हुआ तो बीजेपी रच देगी इतिहास, पहली बार पार्टी को मिलेगी ऐसी ताकत

Devesh Singh

Publish: Jul, 18 2017 03:38:00 (IST)

Patrika Varanas
ऐसा हुआ तो बीजेपी रच देगी इतिहास, पहली बार पार्टी को मिलेगी ऐसी ताकत

बीजेपी को अभी तक नहीं मिली है यह उपलब्धि, जानिए क्या है कहानी


वाराणसी. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अभी नहीं मानते हैं कि पार्टी का स्वर्णिम युग चल रहा है। एक कार्यक्रम में खुद अमित शाह ने कहा था कि जब हम केरल व पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव जीतेंगे तब स्वर्णिम युग आयेगा। फिलहाल दोनों जगहों के चुनाव में अभी समय है, लेकिन लगातार सफलता के नये मापदंड तय कर रही बीजेपी अब एक और इतिहास दर्ज करने की तैयारी में है, यदि ऐसा होता है तो देश में पहली बार कांग्रेस के बाद बीजेपी ऐसी पार्टी होगी, जिसने यह काम किया होगा।

गठबंधन की राजनीति से पहले कांग्रेस का ही देश में डंका बजता रहा है। इसके बाद देश में गठबंधन की राजनीति का दौर शुरू हुआ है, जिसके बाद कांग्रेस के साथ अन्य दलों के नेता को महत्वपूर्ण पद पर बैठने का मौका मिला है। इसके बाद पीएम नरेन्द्र मोदी का युग शुरू हो गया है। गुजरात के तत्कालीन सीएम नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2014 में देश में ऐसी हवा बनायी कि पहली बार केन्द्र की सत्ता में बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिला है। इसके बाद नरेन्द्र मोदी देश के पीएम बने हैं और बहुमत के चलते सुमित्रा महाजन को लोकसभा में स्पीकर पद मिला। बीजेपी के पास पीएम से लेकर लोकसभा में स्पीकर पद मिला। इससे पहले भी देश में अटल बिहारी बाजपेयी की सरकार थी, लेकिन लोकसभा का स्पीकर पद सहयोगी दल के कब्जे में था।

इन दो पदों पर मिली जीत तो बीजेपी रच देगी इतिहास
बीजेपी ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए रोमनाथ कोविंद को प्रत्याशी बनाया है और उनकी जीत लगभग तय मानी जा रही है। इसके बाद बीजेपी की नजर उपराष्ट्रपति पद पर है, जहां पर पार्टी ने वेकैंया नायडू को प्रत्याशी बनाया है। जानकारों का मानना है कि इस पद पर भी बीजेपी को चुनाव जीतने में दिक्कत नहीं होनी चाहिए। यदि ऐसा हो जाता है तो पहली बार चार प्रमुख पद पर आरएसएस से जुड़े लोगों के कब्जे में होगा। यह बीजेपी के लिए इतिहास होगा। इससे पहले यह ताकत सिर्फ कांग्रेस ही दिखा पायी है। बीजेपी के लिए यह ऐतिहासिक पल होगा और कांग्रेस के लिए बड़ा झटका होगा, क्योंकि उसके अतिरिक्त बीजेपी दूसरी पार्टी बन जायेगी। जिसके देश के चार प्रमुख पद पर राजनेता आसीन होंगे।

यह भी पढ़े:-इस्तीफा देने का ऐलान करके मायावती ने खेला बड़ा दांव, बिगड़ सकता बीजेपी का खेल

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned