पीएम मोदी फिर भरेंगे सौगातों से झोली, बिगड़ सकता विपक्षी दलों का समीकरण

Patrika varanasi
पीएम मोदी फिर भरेंगे सौगातों से झोली, बिगड़ सकता विपक्षी दलों का समीकरण

बीजेपी फिर चलेगी तुरुप का पत्ता, जानिए क्या है रणनीति

वाराणसी. पीएम मोदी एक बार फिर सौगातों से लोगों की झोली भरेंगे। बीजेपी फिर तुरुप के पत्ता का उपयोग करते हुए विपक्षी दलों के समीकरण को ध्वस्त करने में लगी है। चुनावी तैयारियों में पिछड़ रही बीजेपी ने यूपी चुनाव से पहले नयी रणनीति बना ली है। सपा, बसपा व कांग्रेस सबसे अधिक हमला पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र को लेकर कर रही है बीजेपी ने खास रणनीति के तहत विरोधियों का जवाब देने की योजना बनायी है।
पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र बनारस है और यूपी में वर्ष 2017 में होने वाले विधानसभा चुनाव में सबसे अधिक हमला काशी को लेकर होना है। बीजेपी के स्टार प्रचारक पीएम मोदी है और उनके संसदीय क्षेत्र में विकास को मुद्दा बना कर विपक्षियों ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला है। नीतीश कुमार ने यूपी चुनाव का शंखनाद यहीं से किया था जबकि सोनिया गांधी ने भी रोड शो के जरिए अपनी ताकत दिखायी थी। नवम्बर में सपा की संदेश यात्रा का आगाजा भी काशी से हो रहा है ऐसे में बीजेपी ने तुरुप का पत्ता चलते हुए खास रणनीति बनायी है। बीजेपी को विश्वास है कि उनके पलटवार से विपक्षियों की बोलती बंद हो जायेगी।


पीएम मोदी 24 अक्टूबर को देंगे सौगात
पीएम मोदी 24 अक्टूबर को अपने संसदीय क्षेत्र काशी में आ रही है। पीएम मोदी एक बार फिर डीरेका स्थित ग्राउंड से सभा को संबोधित करने के साथ लोगों को सौगात देंगे। पीएम मोदी ने पहले ही काशी को कई सौगात दी है जिस पर तेजी से काम हो रहा है। इसके अतिरिक्त चुनावी साल में काशी के लोगों को और सौगात मिलनी तय है।


पीएम से मिलेगी यह सौगाते
पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र काशी को पहले ही स्मार्ट सिटी बनाने की घोषणा कर चुके हैं। इसके अतिरिक्त पीएम मोदी एक हजार करोड़ रुपये की सिटी गैस योजना का शुभारंभ कर सकते हैं। शहर के लिए सबसे जरूरी पांच किलोमीटर फोर लेने की सौगात भी काशी के लोगों को मिल सकती है। लहरतारा से लेकर फुलवरिया होते हुए इमिलिया घाट व शिवपुर सेंट्रल जेल रोड तक जायेगी। इस फोर लेने बनने से शहर को जाम से मुक्ति दिलाने में बड़ी सहुलियत मिलेगी।

रेलवे ट्रैक का होगा दोहरीकरण
पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों को वाराणसी-इलाहाबाद रेलवे ट्रैक दोहरीकरण की आधारशिला पर रख सकते हैं। इस योजना का काशी के लोगों को लम्बे समय से इंतजार है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned