ब्लैकमनी रखने वालों को पीएम मोदी का बड़ा झटका, अब ऐसे होगा खेल का खुलासा

Patrika Varanasi
ब्लैकमनी रखने वालों को पीएम मोदी का बड़ा झटका, अब ऐसे होगा खेल का खुलासा

अगर गलत तरीके से बड़े नोट को बदलवाया है तो हो जाये सावधान, जानिए कैसे खानी पड़ सकती है जेल की हवा

वाराणसी. पीएम नरेन्द्र मोदी ने ब्लैकमनी रखने वालों को बड़ा झटका दे दिया है। पीएम की नयी योजना से गलत तरीके से बड़े नोटों को बदलने वालों को नींद उडऩी तय है। पीएम मोदी ने 8 नवम्बर को नोटबंदी के बाद कहा था कि जनता मेरा साथ दे। हम देश में छिपे कालाधन को बाहर निकल देंगे। नोटबंदी के बाद लोगों ने गलत ढंग से 500 व 1000 रुपये के नोट को बदलने का खेल किया था जो अब फेल हो जायेगा।
पीएम मोदी के नोटबंदी के बाद ब्लैकमनी रखने वाले सबसे अधिक परेशान थे। जिन्होंने गलत ढंग से पैसे कमाये थे उन्होंने उस पैसे से प्रॉपर्टी खरीदी थी और कुछ जगहों पर निवेश किया था। बाकी पैसों को कैश के रुप में रखा था। नोटबंदी के बाद बड़े नोट रखने वालों ने बैंक व अन्य लोगों के साथ मिल कर कमीशन के बल पर 500 व 1000 रुपये के नोट को बदलवाया था। अब ऐसे लोगों पर पीएम मोदी बड़ी कार्रवाई करने वाले हैं।


जनता को हुई थी परेशानी
कमीशन पर बड़ नोटों को बदलवाने के चलते आम जनता को बहुत नुकसान हुआ था उन्हें घंटों लाइन लगाने के बाद भी पैसे नहीं मिल रहे थे। नोटबंदी के बाद बैंकों के बाहर बहुत लम्बी लाइन लगी थी जिसमे से अधिकांश लोग कुछ पैसो लेकर दूसरों के कालाधन को बदलने में जुटे थे। इस भीड़ को हटाने के लिए पीएम मोदी ने नोट बदलने आये लोगों को हाथों में स्याही लगाने का निर्देश जारी किया था। नया निर्देश आते ही लोगों की लाइन कम हो गयी थी।


जानिए कैसे फेल होगा ब्लैकमनी रखने वालों का खेल
आरबीआई ने सभी बैंकों से 9 से 23 नवम्बर तक नोट बदलने वालों की सूची तलब की है। आरबीआई ने अपने निर्देश में साफ लिखा है कि इस अवधि में जितने लोग भी नोट बदलने आये हैं उनकी आईडी, कितने 500 व 1000 रुपये के नोट बदले गये है उसका विवरण, इस अवधि में एकाउंट में जमा हुए पैसे व छोटे नोटों की जानकारी भी देने को कहा गया है। बैंक वालों ने कमीशन पर बिना आईडी लिए ही बड़े नोटों को एक्सचेंज किया है वह लोग अब बच नहीं पायेंगे। आरबीआई को पता चल जायेगा कि बैंक में कितने छोटे व बड़े नोट एक दिन में आये थे और इनका एक्सचेंज किन लोगों ने किया है। आरबीआई के नये निर्देश से बैंक के लोगों में हड़कंप मच गया है। सूची भेजने की अंतिम तिथि 28 नवम्बर रखी गयी है। फिलहाल बैंक में कर्मचारियों की व्यस्थता के चलते सभी जगहों से सूची नहीं भेजी जा सकी है। 


पकड़े गये बैंक वाले तो नोट एक्सचेंज वालों का भी होगा खुलासा
रिपोर्ट आने के बाद गलत तरीके से नोट बदलने वाले बैंक के लोगों का फंसना तय है वह फंसेंगे तो उन्हें बताना होगा कि किसका ब्लैकमनी उन्होंने छोटे नोट में बदला है। अभी तक नोट एक्सचेंज के नाम पर लाखों कमाने वाले बैंक के कुछ अधिकारियों की नींद आरबीआई के नये निर्देश के बाद उड़ गयी है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned