क्षय मुक्त भारत अभियान में शामिल हुआ PM का संसदीय क्षेत्र

Varanasi, Uttar Pradesh, India
क्षय मुक्त भारत अभियान में शामिल हुआ PM का संसदीय क्षेत्र

यूपी से महज छह जिलों का हुआ है चयन।

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को केंद्र के क्षय मुक्त भारत अभियान में शामिल किया गया है। बता दें कि यूपी से महज छह जिलों को इस अभियान में शामिल किया गया  है जिसमें वाराणसी भी एक है।


केंद्र के इस अभियान में प्रदेश के छह जिलों में वाराणसी के अलावा गाजियाबाद, नोयडा, आगरा, उन्नाव और मेरठ को शामिल किया गया है। इसके अंतर्गत चुने गए जिलों में संभावित टी.बी. मरीजों को चिह्नित कर उनके बलगम की जांच और उपचार सुनिश्चित करेगी। यह अभियान चार अगस्त से 18 अगस्त तक चलाया जाएगा।


इस संबंध में सोमवार को आईएमए लहुराबीर के सभागार में मुख्य विकास अधिकारी सुनील कुमार वर्मा की अध्यक्षता में अंतर्विभागीय बैठक की गई। बैठक में आरएनटीसीपी डब्लूएचओ कंसलटेन्ट डॉ. आर पिराबू ने विश्व, भारत, उत्तर प्रदेश और वाराणसी में क्षय रोग की अद्यतन स्थिति एवं सक्रिय क्षय रोग खोज कार्यक्रम की रूप-रेखा से अवगत कराया। जिला क्षय रोग अधिकारी ने अंतर्विभागीय सहयोग के तहत बताया कि जिले के सभी स्कूल/कालेज में प्रार्थना सभा के दौरान, आगनबाड़ी कायकर्त्रियो द्वारा की जाने वाली मिटिंग एवं पंचायती राज द्वारा आयोजित सभाओं, बैठको में क्षय रोग की जानकारी एवं उपलब्ध उपचार सुविधाओ की जानकारी देने का कार्यक्रम तैयार है। इसमें जिले के सभी विभागों के सहयोग की आवश्यकता है।



 मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने उपस्थित सभी विभागों के अधिकारियों व प्रतिनिधियों से अनुरोध किया की इस कार्यक्रम में पूरी निष्ठा से अपना सहयोग प्रदान करें। मुख्य विकास अधिकारी ने उपस्थित सभी विभागों के विभागाध्यक्ष एवं प्रतिनिधियों को निर्देशित किया कि आम जनता की उपस्थिति वाले सभी विभागो में क्षय रोग के लक्षण एवं उपचार से सम्बन्धित प्रचार-प्रसार सामग्री प्रदर्शित की जाय। बताया कि क्षय रोग लाइलाज बीमारी नही है यदि समय से इसकी पहचान कर ली जाय तो रोगी को पूर्णतः रोग मुक्त किया जा सकता है। सरकार की यह सुविधा निःशुल्क है।



बैठक में अपर निदेशक वाराणसी मंडल, आईएमए अध्यक्ष डॉ अशोक राय आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन डॉ ओपी तिवारी ने किया। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके सिंह ने आभार जताया।
 


 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned