कहीं पर तेज हवाओं के साथ झमाझम तो कहीं पर बूंदों के लिए तरसे लोग

Patrika Varanasi
  कहीं पर तेज हवाओं के साथ झमाझम तो कहीं पर बूंदों के लिए तरसे लोग

लोगों को अब मानसून का इंतजार, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. कहीं पर तेज हवाओं के साथ झमाझम तो कहीं पर बूंदों के लिए भी लोग तरस गये। सोमवार की रात से मौसम में जो बदलाव का दौर शुरू हुआ है वह मंगलवार को भी जारी रहा। शहर के कई स्थानों पर आधे घंटे तक तेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने लोगों को उमस से फौरी राहत दे दी है, लेकिन शहर के कई हिस्से में तेज हवाएं तो चली, लेकिन लोगों को बारिश की बूंद नसीब नहीं हुई।

Mansoon

 Cloud


धीखी धूप व उसम ने लोगों को बेहाल किया हुआ है। मौसम विभाग ने समय से पहले मानसून आने की बात कही थी, लेकिन पूर्वांचल में अभी तक मानसून नहीं पहुंचा है। इसके चलते उमस भरी गर्मी में तेजी से इजाफा होता जा रहा है। सोमवार को आधी रात के बाद मौसम में बदलाव हुआ था। आधे शहर में तेज हवाओं के साथ लगभग 20 मिनट तक बादल बरसे थे, जबकि शहर के एक बड़े हिस्से में बारिश नहीं हुई थी। मंगलवार सुबह से मौमस का मिजाज सख्त बना हुआ था दोपहर के बाद आसमान में बादल छाने के साथ तेज हवाएं चलने लगी। मौसम देख कर लगा कि आसमान से राहत की बूंदे बरसने वाली है। लंका, भेलूपुर, लहुराबीर, सुसुवाही आदि इलाकों में आधा घंटा तक तेज बारिश हुई है। वरुणापार के अधिकांश इलाकों में मौसम बूंदाबांदी तक ही सिमटे रहा। मौसम का जो हाल बना हुआ है उससे रात तक बारिश होने की संभावना बनी हुई है।

Weather Scientists


मानसून आने पर ही मिलेगी राहत
मानसून अब दस्तक देने वाला है। मौसम वैज्ञानिकों ने एक से दो दिन में अच्छी बारिश होने की संभावना जतायी है। आमतौर पर 15 से 20 जून तक मानसून आ जाता है इस बार मानसून की सक्रियता कम होने से 20 जून के बाद मानूसन आने की संभावना है।

Humid heat



किसानों ने शुरू कर दी है धान लगाने की तैयारी
मानसून के आने से पहले ही किसानों ने धार लगाने की तैयारी कर दी है। बहुत से किसानों ने बेहन लगा दिया है और कुछ दिन बाद बारिश होने के साथ ही धान  की रोपाइ शुरू हो जायेगी। मौसम विभाग ने सामान्य मानसून रहने का अनुमान जताया है इसके चलते किसानों को विश्वास है कि इस बार भी खेती अच्छी होगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned