मृतक आश्रित कोटे के तहत सालों से कार्य कर रहे कर्मचारीयों ने की पदोन्नति की मांग

Sunil Yadav

Publish: Jun, 19 2017 06:10:00 (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India
मृतक आश्रित कोटे के तहत सालों से कार्य कर रहे कर्मचारीयों ने की पदोन्नति की मांग

मांगे न पूरी होने पर आन्दोलन की चेतावनी

वाराणसी. उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक मृतक आश्रित शिक्षणोत्तर कर्मचारी संघ ने वर्षो से लम्बित मांगो को लेकर, एक बार फिर वाराणसी जिलाधिकारी के माध्य से सीएम और पीएम के नाम ज्ञापन देकर लगाई गुहार। जिला मुख्यालय पर करीब 50 से 60 की संख्या में पहुंचे मृतक आश्रितों का कहना है, कि सर्विस में कई साल गुजारने के बाद भी नहीं मिली पदोन्नति । जिसकारण काम प्रभावित हो रहा है। योग्यता के आधार पर दे पदोन्नतनि।


धरने के पूर्व पर्मिशन न लेने के कारण विभागीय लोगों को नहीं हुई धरने की जानकारी। जिस कारण उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक मृतक आश्रित शिक्षणोत्तर कर्मचारी संघ के बैनर तले शात्री घाट पर मृतक आश्रित घंटो बैठने के बाद, जिला मुख्यालय पहुंच कर दो सूत्रीय मांग पत्र एसीएम चतुर्थ को सौपा। इसके पूर्व मृतक आश्रितों ने अपनी मागों के समर्थन में जिला मुख्यालय पर नारे लगाए।

मृतक आश्रितों की मांग


01- बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में मृतक आश्रित सुविधा के तहत नियुक्त श्रेणी कर्मचारी जो स्नातक एंव परास्नातक है। उन्हें पूर्व की भाती प्रशिक्षण दिलाते हुए टीईटी परीक्षा में बैठने का अवसर प्रदान किया जाए और परीक्षा पास कर लेने के बाद सहायक पद पर समायोजित किया जाए।

02- बेसिक शिक्षा द्वारा संचालित पूर्व माध्यमिक विद्यालयों में मृतक आश्रित सुविधा के तहत नियुक्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी जो इण्टरमीडिएट की योग्यता रखते हैं । उन्हें टंकण/कम्प्यूटर का प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद विद्यालय स्तर एंव खण्ड शिक्षा अधिकारी कार्यलय में कनिष्ठ लिपिक के पद पर समायोजित किया जाए।

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक मृतक आश्रित शिक्षणोत्तर कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष जयप्रकाश ने मांगे न पूरी होने पर दी आन्दोलन की चेतावनी। इस दौरान जिलामंत्री संतोष कुमार दसौधी, जिला उपाध्यक्ष धर्मोन्द्र सिंह, जिला सचिव राम लक्ष्मण यादव आदि मौजूद रहें



Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned