पीएम नरेन्द्र मोदी ने किया स्वागत और ग्राम प्रधानों ने देखा गुजरात विकास मॉडल

Patrika Varanasi
पीएम नरेन्द्र मोदी ने किया स्वागत और ग्राम प्रधानों ने देखा गुजरात विकास मॉडल

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस के दो विधानसभा क्षेत्र के ग्राम प्रधानों ने गुजरात मॉडल देखा। मंगलवार को मीडियाकर्मियों से बात करते हुए ग्राम प्रधान से गुजरात यात्रा के अनुभव को साझा किया।


वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस के दो विधानसभा क्षेत्र के ग्राम प्रधानों ने गुजरात मॉडल देखा। मंगलवार को मीडियाकर्मियों से बात करते हुए ग्राम प्रधान से गुजरात यात्रा के अनुभव को साझा किया। ग्राम प्रधानों ने कहा कि गुजरात यात्रा के दौरान उन्हें जो प्यार व सम्मान मिला है उसे वह भूल नहीं पायेंगे।
ग्राम प्रधान ने कहा कि उनकी यात्रा यादगार रही है। सबसे पहले वह वाराणसी से नई दिल्ली पहुंचे हैं, जहां पर संसद की कार्रवाई देखने के बाद पीएम के आवास पर जाकर उनसे भेंट की। यहां पर पीएम मोदी ने सभी ग्राम प्रधानों के साथ भेंट की और उनकी समस्याओं को जाना। पीएम मोदी ने ग्राम प्रधान के परिजनों को भी समय दिया और उनके छोटे बच्चों के साथ भी समय बताया। ग्राम प्रधानों ने कहा कि यह उनकी जिंदगी का पहला अवसर है, जब देश के किसी पीएम ने हम लोगों को इतना समय दिया है। इसके बाद ग्राम प्रधान सीधे गुजरात पहुंचे है। ग्राम प्रधानों का कहना है कि वहां के लोगों ने जो स्वागत किया है जितना प्यार दिया है  वह अद्भृत है। ग्राम प्रधानों का कहना है कि उन्हें गुजरात में कहीं भी गंदगी देखने को नहीं मिली। गुजरात में कभी सफाईकर्मी तक नहीं दिखे, जिससे पता ही नहीं चला कि कब सफाई होती है। बिजली, सुरक्षा, सड़क आदि सभी आधारभूत चीजे इतनी अच्छी है कि देश में शायद कही पर ऐसी व्यवस्था होगी। ग्राम प्रधानों का कहना है कि रेलवे, रोडवेज आदि जगह इतने चमचमा रहे थे। ऐसी सफाई व्यवस्था की कल्पना उन्होंने नहीं की थी। मीडिया से वार्ता करने वालों में पीएम मोदी के गांद लिए गांव जयापुर के प्रधान श्री नारायण पटेल, भिखारीपुर के डा.दिनेश सिंह, खुशीपुर के विकास यादव, नरोत्तमपुर की सरोज सिंह, नासिरपुर के गोपाल यादव, सुसवाही के गुड्ड पटेल आदि ग्राम प्रधान शामिल थे।

Modi parliamentary




मिली प्रेरणा करेंगे सबको जागरूक
ग्राम प्रधानों ने कहा कि गुजरात देखने के बाद उन्हें प्रेरणा मिली है, वह भी चाहते है कि उनका गांव में सफाई व्यवस्था सही हो। इसके लिए वह गांव के लोगों को जागरूक करेंगे ओर सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि गुजरात जाकर यह बात समझ में आ गयी है कि सिर्फ योजनाओं को चलाने से व्यवस्था में परिवर्तन नहीं होने वाला है, यदि हम सही में परिवर्तन चाहते है तो सभी को बदलना होगा। यह सोच हम लोग के मन में बैठ गयी है ओर जल्द ही सभी गांव वालों को भी स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जायेगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned