भोपाल के निजी मेडीकल कॉलेज में होगा अतिकुपोषितों का इलाज

Vidisha, Madhya Pradesh, India
भोपाल के निजी मेडीकल कॉलेज में होगा अतिकुपोषितों का इलाज

बैठक में सामने आया कि शासन की योजनाओं में बैंक हितग्राहियों को ऋण देने में लापरवाही बरत रहे हैं। जिस पर कमिश्नर ने सख्त लहजे में कहा कि ऐसे बैंक के प्रबंधक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।


विदिशा.
जिले के अतिकुपोषित बच्चों का इलाज अब भोपाल के निजी मेडीकल कॉलेज में होगा। मेडीकल कॉलेज ग्रुप द्वारा जिले में शिविर भी लगाए जाएंगे।  यह निर्देश कमिश्नर अजातशत्रु श्रीवास्तव ने बुधवार को कलेक्ट्रेट में हुई बैठक में अफसरों को दिए। उन्होंने कहा कि जिले को कुपोषण मुक्त करने के लिए मेडीकल कॉलेज ग्रुप से टाइअप किया जा रहा है। इसके द्वारा लगाए जाने वाले शिविर में अधिकतम 40 बच्चों को शामिल कराया जाए।

उन्होंने कहा कि जिन कुपोषित बच्चों का उपचार जिला स्तर पर संभव नहीं होगा, उनका इलाज मेडीकल कॉलेज में कराया जाएगा। गौरतलब है कि पत्रिका ने कुपोषण के खिलाफ मुहिम चला रखी है। जिस पर प्रदेश सरकार ने संज्ञान लिया है।
कमिश्नर ने सीएम हेल्पलाइन पर दर्ज शिकायतों के लेवल वन पर जानकारी दर्ज नहीं देने वाले अफसरों को शोकॉज नोटिस देने के निर्देश दिए। श्रम विभाग की योजनाओं  में ढिलाई पर कमिश्नर ने श्रम अधिकारी की खिंचाई की। उन्होंने कहा कि श्रमिकों को योजनाओं का शत-प्रतिशत लाभ दिलाया जाए।

बैठक में सामने आया कि शासन की योजनाओं में बैंक हितग्राहियों को ऋण देने में लापरवाही बरत रहे हैं। जिस पर कमिश्नर ने सख्त लहजे में कहा कि ऐसे बैंक के प्रबंधक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। उन्होंने राशन कार्डधारियों को समय पर खाद्यान्न देने के निर्देश दिए। बैठक में कई विभागों के अधिकारी पूरी जानकारी लेकर नहीं आए। वे बैठक के दौरान ही अपने स्टाफ से फोन पर जानकारी लेते देखे गए। कुछ अधिकारी बैठक शुरु होने के पौन घंटे बाद पहुंचे। जिस पर कमिश्नर ने नाराजी जताई। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास निर्माण समय पर कराने के निर्देश दिए।
 
बैसनगर-पीपलखेड़ा का भी किया दौरा
बैठक के बाद कमिश्नर जिले के अन्य अधिकारियों के साथ बैसनगर स्थित दुग्ध शीत केंद्र और पीपलखेड़ा भी गए। यहां ग्रामीणों से विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की वास्तविक स्थिति जानी। स्कूल में विद्यार्थियों से भी चर्चा की। पीपलखेड़ा में एक सड़क जल्द बनवाने के निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर अनिल सुचारी, एसपी धर्मेंद्र चौधरी, एडीएम अंजू भदौरिया, जिला पंचायत सीईओ दीपक आर्य, एसडीएम आरपी अहिरवार आदि मौजूद थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned