दूल्हा बन शहर में निकले शिव, भूत प्रेत बने बाराती

rishi upadhyay

Publish: Jan, 14 2017 06:41:00 (IST)

Bhopal, Madhya Pradesh, India
दूल्हा बन शहर में निकले शिव, भूत प्रेत बने बाराती

रामलीला की शुरुआत सुबह भूमिपूजन के साथ हुई। दोपहर भगवान राम-लक्ष्मण और जानकी को गंगा दर्शन के लिए चरणतीर्थ बेतवा घाट पर समारोह पूर्वक ले जाया गया।

विदिशा। ऐतिहासिक रामलीला मेले के पहले दिन सुबह भूमि पूजन, फिर भगवान द्वारा गंगा दर्शन और शाम को भगवान भोलेनाथ की भव्य बारात निकाली गई। शहर के मुख्य मार्गों से निकली गई इस बारात में गाजे-बाजों के साथ देवता-भूत, प्रेत, ऋषि-मुनि और शहर के गणमान्य नागरिक शामिल हुए।

रामलीला की शुरुआत सुबह भूमिपूजन के साथ हुई। दोपहर भगवान राम-लक्ष्मण और जानकी को गंगा दर्शन के लिए चरणतीर्थ बेतवा घाट पर समारोह पूर्वक ले जाया गया। इसके बाद शाम को माधवगंज शिवालय से भोले नाथ की भव्य बारात निकाली गई।




रथ पर सवार होकर निकले दूल्हा शिव
दूल्हे के वेश में रथ पर सवार होकर शिवजी बारात में निकले। बारात में ब्रहा-विष्णु, सूर्य-चंद्रमा, शिवगण वीरभद्र, नंदी के साथ ही तमाम देवता, राजा-महाराजा और ऋषि-मुनियों के साथ ही भूत-पिशाचों की सेना साथ थी। 

दूल्हा बने भोलेनाथ का जगह-जगह आरती उतारकर और पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया। नगर के गणमान्य लोग भी बाराती के तौर पर साथ-साथ चल रहे थे। पूरे रास्ते भूत-पिशाच राहगीरों को अपनी हरकतों से डराने का प्रयास करते रहे। देर शाम रामलीला परिसर पहुंची शिव बारात की अगवानी की गई और फिर भोलेनाथ के विवाह की रस्म निभाई गई। 




पीएचई के शिवराम बने शिवजी
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में लिपिक के पद पर कार्यरत शिवराम शर्मा रामलीला में पिछले 28 वर्ष से शिवजी का किरदार निभा रहे हैं। उनकी उम्र 57 वर्ष है। लेकिन रामलीला से निरंतर सक्रिय रूप से जुड़े हुए हैं। उनके साथ आजाद सोनी वीरभ्रद की भूमिका में और अंकित अग्रवाल ब्रहाजी की भूमिका में नजर आए। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned