Bharat Band की पूरी तैयारी, बीजेपी सरकार के खिलाफ बंद को सफल बनाने का आहृान,जरूरी सामान खरीद लें नहीं तो हो सकती है परेशानी

Bharat Band की पूरी तैयारी, बीजेपी सरकार के खिलाफ बंद को सफल बनाने का आहृान,जरूरी सामान खरीद लें नहीं तो हो सकती है परेशानी

Ashutosh Pathak | Publish: Sep, 26 2018 11:50:44 AM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

28 September Bharat Band, Aaj Bharat Band Hai- FDI और GST के विरोध में 28 सितंबर को व्यापारियों ने भारत बंद बुलाया है। व्यापारियों ने मोदी सरकार के खुदरा क्षेत्र में एफडीआई के खिलाफ मोर्चा खोला है।

 

नोएडा। 28 September bharat band , Aaj Bharat Band Hai- 28 सितंबर को व्यापारियों ने भारत बंद ( Bharat Band) का ऐलान किया है और इसके लिए नोएडा के यूनियन के पदाधिकारियों ने ट्रेड यूनियनों से बातचीत कर भारत बंद को सफल बनाने का आह्वान किया। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने भी सभी व्यापारियों से समर्थन मांगा।

ये भी पढ़ें : Bharat Band : सितंबर में तीसरी बार भारत बंद का ऐलान, फिर बढ़ेगी मोदी सरकार की मुसीबत, इस बार इन्होंने बुलाया भारत बंद

भारत बंद ( Bharat Band ) के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि भारत बंद की पूर्व संध्या पर यानी 27 सितंबर को मशाल जुलूस में व्यापारियों से ताकत दिखाने का आह्वान किया गया। दरअसल खुदरा विक्रेताओं और व्यापारियों ने एफडीआई और फ्लिपकार्ट-वॉलमार्ट ( Flipkart walmart) और अमेज़ॅन के भारत में पांव पसारने से हो रहे नुकसान के खिलाफ केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला है। व्यापारियों का कहना है कि सरकार से कई बार व्यापारियों ने गुहार लगाई लेकिन सरकार ने उनकी मांगों को अनसुना कर दिया।

ये भी पढ़ें : क्रिकेट ट्रॉफी से जब निकलने लगे हीरे और ट्रैक्टर के पहिए से मिली ऐसी चीज की सभी की आंखे खुली रह गई

व्यापारियों ने बताया कि 28 सितंबर को भारत बंद भारतीय बाजार में खुदरा क्षेत्र में एफडीआई के खिलाफ बुलाया गया है। क्योंकि एफडीआई के आने से अब बाजार में विदेशी कंपनियां धड़ल्ले से खुल रही हैं और वॉलमार्ट जैसी कंपनियाों के बाजार में आने से छोटे व्यापारियों के कारोबार को प्रभावित हो रहे हैं साथ ही उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। नोएडा के छोटे व्यापारियों का कहना है कि विदेशी कंपनियों ने डोर टू डोर यानी होम डिलवरी सर्विस को भी बढ़ावा दिया है। इसके अलावा त्योहारी सीजन और कई अवसरों पर छूट की पेशकश करते हैं जिससे उनके सामने बड़ा संकट आ गया है। वहीं शामली में भी केमिस्ट एसोसिएशन ने केंद्र सरकार की आनलाइन दवाई बिक्री की अधिसूचना के विरोध में बंद करने का समर्थ किया है।

ये भी पढ़ें : इस कांग्रेस नेता की वजह से टूटा महागठबंधन, तो मायावती ने अब प्लान B का लिया सहारा और काग्रेस को दे दिया झटका

नोएडा व्यापार मंडल ने आहृान करते हुए कहा वैसे तो भारत बंद से व्यापारियों का ही सार्वाधिक नुकसान होता है लेकिन बंद व्यापारियों का अंतिम हथियार है। क्योंकि अब कोई विकल्प नहीं है।

ये भी पढ़ें : Weather Alert : मौसम विभाग की चेतावनी इस दिन से फिर लौट रहा मानसून, इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned