Coronavirus: इस तरह एक शख्स ने महिला, उसके पति, उनकी बेटी व दंपती को दी बीमारी

Highlights

  • Corona के अब तक 14 मामले सामने आए हैं Noida में
  • सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर दे रहे हैं डॉक्टर
  • लंदन से आए ऑडिटर के संपर्क में आई थी महिला

नोएडा। गौतम बुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) जिले में कोरोना (Corona) के अब तक 14 केस सामने आ चुके हैं। इस बीमारी से बचने के लिए सरकार और प्रशासन सोशल डिस्टेंसिंग पर जोर दे रही है, लेकिन कुछ लोग है कि सुधरने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। नोएडा (Noida) में गुरुवार (Thursday) को तीन नए मामले सामने आए हैं। इनमें सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि लंदन (London) से आए शख्स की वजह से पांच लोग संक्रमित हुए।

गुरुवार को मिले तीन मरीज

गुरुवार को जिले में एक दंपती और युवती में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनको ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) में भर्ती कराया गया है। ये सभी लंदन से आए एक शख्स की वजह से इस बीमारी की चपेट में आए हैं। सीएमओ अनुराग भार्गव के अनुसार, सेक्टर—137 की लॉजिक्स ब्लॉसम सोसाइटी की एक महिला की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। उसकी कंपनी में ऑडिट के लिए लंदन से एक शख्स आया था। ऑडिटर सेक्टर 135 के सैंडल सुइट होटल में रुका था। महिला उसके संपर्क में आई थी। इस वजह से वह संक्रमित हो गई। महिला से संक्रमण उसके पति को हुआ। मंगलवार को दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। दंपती से ही यह बीमारी उनकी बेटी में पहुंची। गुरुवार को उसकी रिपोर्ट भी पाजिटिव आई।

यह भी पढ़ें: Corona को हराने के लिए घर में रहे कैद, आवश्यक सामान की डोर-टू-डोर सप्लाई हुई शुरू

पति और पत्नी की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

सेक्टर—150 की गोल्फशायर सोसाइटी में रहने वाला एक युवक भी उसी कंपनी में काम करता है। वह लंदन से आए ऑडिटर से मिला था। ऑडिटर से स्रकमण पहले उसमें और फिर उकी पत्नी में हुआ। पति और पत्नी दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जानकारी के अनुसार, करीब 43 लोग इन दोनों परिवार के संपर्क में आए हैं। उन पर निगरानी रखी जा रही है।

तीन मरीज घर लौटे

वहीं, गुरुवार को 13 संदिग्धों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं, जबकि कोरोना को मात देकर तीन मरीज घर लौट गए। जिम्स में तीन मरीजों को पूरी तरह संक्रमण मुक्त घोषित कर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। जिम्स के डायरेक्टर के अनुसार, कुल 375 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। ये तीनों फिलहाल 14 दिन तक आइसोलेशन में रहेगे। इन मरीजों को 16 मार्च को अस्पताल में भर्ती किया गया था। जांच में उनके कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। 23 मार्च को उनकी दोबारा जांच कराई गई, जो निगेटिव आई। गुरुवार को फिर जांच हुई। इस बार फिर रिपोर्ट निगेटिव रही।

यह भी पढ़ें: भाजपा नेता ने कमल-नमो के बाद अब एक सांस में बनाया कोरोना के जाप का रिकॉर्ड, वीडियो वायरल

जिम्स में हो रही जांच

जिम्स के डायरेक्टर ब्रिगेडियर डॉ. राकेश गुप्ता ने बताया कि यह अस्पताल कोरोना महामारी के साथ चल रही जंग में नोडल सेंटर बनाया गया है। यहां मरीजो कि जांच भी कि जा रही है। उनका कहना है कि कोरोना लक्षण बड़ों और बच्चों में एक जैसे होते हैं। लक्षण दिखते ही डॉक्टर को दिखाना चाहिए। वहीं, कोरोना को मात देकर अपने घर जाने वाले युवक ने बताया कि यहां का स्टाफ काफी सपोर्टिव है। उनका काफी ख्याल रखा गया।

coronavirus
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned