script4 woman dies under suspicious circumstances in 15 days in nari niketan | नारी निकेतन में एक पखवाड़े के अंदर हुई 4 महिलाओं की मौत के बाद हड़कंप, डीएम ने दिए जांच के आदेश | Patrika News

नारी निकेतन में एक पखवाड़े के अंदर हुई 4 महिलाओं की मौत के बाद हड़कंप, डीएम ने दिए जांच के आदेश

नोएडा के सेक्टर 34 में स्थित राजकीय महिला शरणालय एवं बाल गृह मे मानसिक रूप से कमजोर महिलाओं को मजिस्ट्रेट के आदेश पर रखा जाता है। इस महिला शरणालय पिछले 15 दिनों में हुई 4 महिलाओं की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है।

नोएडा

Published: January 05, 2022 01:59:19 pm

उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले के सेक्टर-34 स्थित नारी निकेतन में एक पखवाड़े के अंदर हुई 4 महिलाओं की मौत के बाद हड़कंप मच गया है। महिलाओं की सुरक्षा का दावा करने वाले नारी निकेतन के प्रबंधन की कार्यशैली सवालों के घेरे में आ गई है। डीएम ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को मौके पर जाकर जांच करने के आदेश दिए हैं, उनका कहना है कि जांच रिपोर्ट के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी। मृतकों का पोस्टमार्टम भी डॉक्टरों के पैनल से कराया जाएगा।
nari_niketan.jpg
यह भी पढ़ें

CM योगी के इस IPS अफसर ने चोरों को बनाया दिया साधू, कुछ ही सालों में बन गए थे करोड़पति

15 दिनों में हुई चार महिलाओं की मौत

नोएडा के सेक्टर 34 में स्थित राजकीय महिला शरणालय एवं बाल गृह मे मानसिक रूप से कमजोर महिलाओं को मजिस्ट्रेट के आदेश पर रखा जाता है। इस महिला शरणालय पिछले 15 दिनों में हुई 4 महिलाओं की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है। बीते 20 दिसंबर को 50 वर्षीय सुनीता, 23 दिसंबर को 50 वर्षीय आराधना, 30 सितंबर को 25 वर्षीय प्रियंका और 3 जनवरी को 30 वर्षीय रूबी की मौत जिला अस्पताल में हुई है। इसके बाद महिला की सुरक्षा का दावा करने वाले नारी निकेतन के प्रबंधक सवालों के घेरे में है।
कर्मचारियों की है कमी

जानकारी के अनुसार इस समय 150 महिलाओं की देखभाल के लिए महज आठ कर्मचारी हैं, जबकि इनकी संख्या 48 होनी चाहिए। स्टाफ की कमी के कारण महिलाओं की सही से देखभाल नहीं हो पाती है। यही कारण है कि आए दिन यहां रहने वाली महिलाएं बीमार हो जाती हैं। इनकी सुरक्षा व्यवस्था और देखरेख के लिए लगभग 72 सीसीटीवी कैमरे लगे हुये है, लेकिन इनमें कई कैमरे खराब है।
जिलाधिकारी ने दिए जांच के आदेश

जिन चार महिलाओं की मौत हुई है, इसमें से प्रियंका की मौत के बाद हुए पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में मौत कारण हार्ट अटैक बताया गया है। अन्य महिलाओं की पोस्टमार्टम का खुलासा अब तक नहीं किया गया। बीते 15 दिनों में हुई 4 महिलाओं की मौत जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया है। गौतमबुध नगर के डीएम सुहास एलवाई ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को मौके पर जाकर जांच करने के निर्देश दिए हैं। उनका कहना है कि जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
सीजर बीमारी से ग्रसित थी महिलाएं

जिला प्रोबेशन अधिकारी अतुल सोनी बे बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि यह महिलाएं मानसिक रूप से बीमार और सीज़र बीमारी से ग्रसित थी। उन्होंने बताया कि इन महिलाओं को उपचार जिला अस्पताल में डॉक्टर तनुजा गुप्ता द्वारा किया जा रहा था। जिला अस्पताल की नर्स लगातार इनको जरूरी दवाइयां दे रही थी।
यह भी पढ़ें

Corona In UP: कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने में जुटा स्वास्थ्य विभाग, तैयारियों के मामले में नोएडा सबसे आगे

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही चलेगा मौत की कारणों का सही पता

डॉक्टर ने बताया कि यह महिलाएं मानसिक रूप से बीमार थी महिला के मृत्यु होने के बाद प्रबंधक द्वारा नोएडा के सेक्टर 24 थाने को सूचना दी गई थी। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट अभी प्राप्त नहीं हुई है, मौत का सही कारण पता नहीं चल सका है। उन्होंने बताया कि विगत दो वर्षों में उक्त संस्था से 60 से अधिक मानसिक रूप से मंदित संवासियों का उपचार एवं कांउन्सिलिंग कराकर मजिस्ट्रेट के माध्यम से उनके परिजनों की सुपुर्दगी में करते हुये पुनर्वासन किया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election: चार दिन में बदल गया यूपी का चुनावी समीकरण, वर्षों बाद 'मंडल' बनाम 'कमंडल'दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेअब एसएसबी के 'ट्रैकर डॉग्स जुटे दरिंदों की तलाश में !सूर्य ने किया मकर राशि में प्रवेश, संक्रांति का विशेष पुण्यकाल आजParliament Budget session: 31 जनवरी से शुरू होगा संसद का बजट सत्र, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगाArmy Day 2022: क्‍यों मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए महत्व और इतिहास से जुड़े रोचक तथ्यकोरोना से बचने एडवाइजरी जारी-फल और सब्जियों में बरतें ये सावधानियांमहाराष्ट्र से सटे CG के इस जिले में कोविड पॉजिटिविटी रेट बढ़ा, कलेक्टर ने स्कूल, आंगनबाडिय़ों को किया लॉक, टिफिन से मिलेगा बच्चों को गर्म भोजन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.