लोटस बुलेवर्ड सोसाइटी में रेजिडेंट्स को बेरहमी से पीटने वाले 8 गार्डों को गिरफ्तार कर जेल भेजा

सुरक्षा में तैनात गार्डों द्वारा रेजिडेंट्स को ही लाठी-डंडे, बैट और रॉड से बुरी तरह पीटने का मामला

By: lokesh verma

Published: 10 Sep 2021, 04:46 PM IST

नोएडा. कोतवाली सेक्टर-39 पुलिस ने सेक्टर-100 स्थित लोट्स बुलेवर्ड सोसायटी के सिक्योरिटी गार्डों द्वारा रेजिडेंट से मारपीट के मामले में सिक्योरिटी इंचार्ज समेत 8 गार्डों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। साथ ही सोसायटी के अपार्टमेंट ऑनर्स एसोसिएशन (एओए) अध्यक्ष तेज प्रकाश और सचिव संजय सिंह की भूमिका की जांच की जा रही है। दोनों आरडब्ल्यूए पदाधिकारी का नाम एफआईआर में शामिल है। बता दें कि पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद से ही लाेग आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

एडिशनल डीसीपी रणविजय बताया कि सेक्टर-100 में स्थित लोटस बुलेवर्ड सोसाइटी में एसपी सिंह 17वीं मंजिल पर रहते हैं। उन्होंने पुलिस को शिकायत दी कि उन्हें फ्लैट में मेंटेनेंस का कुछ काम कराया था। इसके चलते उन्होंने अपने ने फ्लैट की चाबी सोसाइटी के गेट पर सिक्योरिटी गार्ड्स के ऑफिस में दी थी। उनका कहना है कि फ्लैट मे काम करने के लिए मंगलवार को एक कर्मचारी आया था। कर्मचारी ने सुरक्षाकर्मी से चाबी मांगी तो उसने देने से इनकार कर दिया। इस मामले में बात करने के लिए एमपी सिंह बेटे सुरेश के साथ बुधवार सुबह ऑफिस पहुंचे। इसी दौरान सिक्योरिटी गार्ड्स और सुरेश के बीच कहासुनी हो गई। इसके बाद सभी सिक्योरिटी गार्ड्स ने सुरेश पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया। आरोपियों ने बेरहमी से पिटाई कर सुरेश और एमपी सिंह को गंभीर रूप से घायल कर दिया, जिसके बाद उन्हें नजदीक के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह भी पढ़ें- Shamli में हाथ टच होने पर भीड़ ने युवक को पीट-पीटकर मार डाला

सुरक्षा गार्डों द्वारा पिता-पुत्र की पिटाई का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था। इस मामले में सुरेश ने भी सेक्टर-39 कोतवाली में केस दर्ज कराया था। इसके बाद पुलिस ने सिक्योरिटी सुपरवाइजर, आरोपित सुरक्षा गार्डों, आरडब्ल्यूए पदाधिकारियों समेत 20 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था, जिसमें से आठ सिक्योरिटी गार्ड्स को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें- यूपी में साहूकारों पर भी लगेगा गैंगस्टर एक्ट, मौत के लिए उकसाया तो खैर नहीं

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned