CAA के पक्ष में सड़क पर उतरे अधिवक्ता, बोले- कानून से किसी को डरने की जरूरत नहीं

Highlights:

-अधिवक्ता विक्रम चौहान के नेतृत्व में एक तिरंगा यात्रा निकाली गई

-जिसमें बड़ी संख्या में नोएडा समेत एनसीआर के अधिवक्ताओं ने हिस्सा लिया

-इस दौरान लोगों को केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कानून के बारे में जागरूक किया गया

नोएडा। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग में करीब एक माह से धरना प्रदर्शन चल रहा है। जिसके चलते इस रूट पर यात्रा करने वाले लोगों की जिंदगी दुश्वार हो गई है। वहीं इस सबके बीच अब सीएए के पक्ष में भी लोग सड़क पर उतरने लगे हैं और प्रदर्शनकारियों से अपील कर रहे हैं कि इस कानून से न डरें।

यह भी पढ़ें : सीएए के विरोध में 35 हजार लोगों के हस्ताक्षर का पत्र भेजा चीफ जस्टिस को, पीआईएल दाखिल की मांग Video

photo6129613682758494550.jpg

दरअसल, अधिवक्ता विक्रम चौहान के नेतृत्व में सीएए, एनपीआर और एनआरसी का समर्थन करते हुए दिल्ली की सड़कों पर एक तिरंगा यात्रा निकाली गई। जिसमें बड़ी संख्या में नोएडा समेत एनसीआर के अधिवक्ताओं ने हिस्सा लिया। इस दौरान लोगों को केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कानून के बारे में जागरूक किया गया।

यह भी पढ़ें: RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले अब भारत को विश्वगुरु बनाना है लक्ष्य

अधिवक्ता विक्रम चौहान ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि किसी को भी नागिरकता संशोधन कानून से घबराने या डरने की जरूरत नहीं है। जो भारत के नागरिक हैं उन्हें इस कानून से कोई खतरा नहीं है। विपक्षी पार्टियां व कुछ लोग अपने फायदे के लिए भ्रम फैला रहे हैं और देश की शांति को भंग करना चाहते हैं। हमें जरूरत है कि ऐसे लोगों की झांसे में ना आएं।

यह भी पढ़ें : एसएसपी ने इंटरव्‍यू लेने के बाद दरोगाओं को ऑन द स्‍पॉट बनाया चौकी प्रभारी

photo6129613682758494552.jpg

वहीं अधिवक्ता रविंद्र चौहान ने कहा कि इस कानून को लाने के पीछे केंद्र सरकार की मंशा पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देना है। इन लोगों का पिछले लंबे समय से उत्पीड़न होता आ रहा है और इस बाबत नेहरू लियाकत समझौता भी हुआ था। उसी क्रम में सरकार काम कर रही है।

CAA CAA protest
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned