अखाड़ा परिषद ने ब्लैक लिस्टेड बाबाओं की सूची में नोएडा से महामडलेश्वर बने सचिन दत्ता को भी किया शामिल

बीयर बार से लेकर बिल्डर कंपनी का संचालक था सच्चिदानंद महाराज उर्फ सचिन दत्ता

By: Iftekhar

Updated: 11 Sep 2017, 08:18 PM IST

नितिन शर्मा/ नोएडा. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने रविवार को देश के 11 फर्जी बाबाओं की सूची जारी की। इलाहाबाद के बाघंबरी मठ में हुई कार्यकारिणी की विशेष बैठक में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की 13 अखाड़ा शामिल थे। इसी दौरान इन फर्जी बाबाओं की सूची जारी की गई। इस सूची में सच्चिदानंद गिरि उर्फ सचिन दत्ता का नाम भी शामिल है। सचिन दत्ता उर्फ़ सच्चिदानंद गिरी महाराज न केवल नोएडा में बीयर बार चलाता था, बल्कि वह बालाजी कंस्ट्रक्शन नाम का रियल एस्टेट कंपनी का भी संचालन करता है। सच्चिदानंद को दो साल पहले अगस्त 2015 में हामंडेलश्वर बनाया गया था। खुलासे के बाद अखाड़ा परिषद में हड़कंप मच गया था। हालांकि, आरोप है कि इसके दो दिन बाद फिर से इनको महामंडलेश्वर बनाने की सिफारिश कैलाशानंद व नरेंद्र गिरि ने की थी। सच्चिदानंद गिरि का महामंडलेश्वर पद का पट्टाभिषेक जब हुआ था, तो उस समय संत-महात्माओं के साथ कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव और पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह भी मौजूद थे।

जेपी को सुप्रीम कोर्ट से लगा बड़ा झटका, 2000 करोड़ रूपए जमा करने के दिए आदेश

बायर्स से भी ठग लिया था करोड़ों रुपए
आपको बता दें कि बीयर बार से महामडलेश्वर बना सचिन दत्ता ने बायर्स को फ्लैट के नाम पर धोखाधड़ी कर उनके फ्लैटों पर भी बैंको से करोड़ों रुपए का लोन ले लिया था। इतना ही नहीं दत्ता ने कर्इ फ्लैटों को दो-दो लोगों को बेच दिया था। यह बात सामने आने पर पुलिस ने आरोपी सचिन दत्ता पर मुकदमा दर्ज करने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

पूर्व विधायक ने दस लाख की सुपारी देकर गाजियाबाद में कराई थी भाजपा नेता की हत्या

सच्चार्इ सामने आने पर वापस ले ली गई उपाधि
एक ही रात में रुपयों के दम पर महामडलेश्वर बने सचिन दत्ता की सच्चार्इ सामने आने पर दो दिन बाद ही उससे उपाधि छिन गर्इ थी। इसके बाद धोखाधड़ी के कर्इ मामले दर्ज होने के बाद सचिन दत्ता को जेल भी हुर्इ। हालांकि, सचिन दत्ता महामडलेश्वर की उपाधि या किसी भी तरह से गलत फायदा न उठा सकें। इसके लिए उसका नाम इस सूची में शामिल किया गया है।

Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned