नाेएडा की एक फैक्ट्री में बन रहे थे प्रतिबंधित सिंगल यूज़ प्लास्टिक डिस्पोजेबल ग्लास

नाेएडा की एक फैक्ट्री में प्रशासन ने छापेमारी करके बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित प्लास्टिक बरामद की। यह फैक्ट्री बिजली के उपकरण बनाने के लिए पंजीकृत थी।

By: shivmani tyagi

Updated: 09 Jan 2021, 10:25 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

पत्रिका. नोएडा में प्लास्टिक को लेकर प्राधिकरण और जिला प्रशासन लगातार छापेमारी कर रहे है। अवैध एवं प्रतिबंधित प्लास्टिक का धंधा करने वालों के खिलाफ नोएडा प्राधिकरण और जिला प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। सेक्टर-63 स्थित एक कंपनी पर छापा मारा। बेसमेंट से अवैध प्लास्टिक एवं प्रतिबंधित प्लास्टिक से बने मैटिरियल भारी संख्या में बरामद हुआ। कंपनी पर आर्थिक दंड लगाया गया है और अवैध रूप से चल रही कंपनी के खिलाफ कार्रवाही के प्राधिकरण के औधोगिक विभाग को सूचित किया गया है।

यह भी पढ़ें: यूपी सरकार ने दाेगुना किया मनरेगा का बजट, अब हाथ काे मिलेगा काम

प्रतिबंधित सिंगल यूज़ प्लास्टिक डिस्पोजेबल ग्लास के निर्माण की अवैध फैक्ट्री की शिकायत मिलने पर नोएडा प्राधिकरण के जन स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की ओर से सिटी मजिस्ट्रेट और प्रदूषण विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को सेक्टर 63 स्थित प्लॉट नंबर सी-127 के बेसमेंट से अवैध में चल रही फैक्ट्री पर छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान पाया गया है कि उस फैक्ट्री में प्रतिबंधित सिंगल यूज प्लास्टिक डिस्पोजेबल ग्लास का भारी मात्रा में निर्माण किया जा रहा था। छापेमारी के दौरान फैक्ट्री से लगभग 350 कार्टून बॉक्स लगभग एक टन प्रतिबंधित सिंगल यूज प्लास्टिक डिस्पोजेबल ग्लास बरामद किए गए जिन्हे जब्त कर लिया गया।

यह भी पढ़ें: भाई से दुश्मनी का बदला लेने को बुआ ने किया 10 साल के मासूम भतीजे को अगवा

नोएडा प्राधिकरण के जन स्वास्थ्य के ओएसडी इंदु प्रकाश सिंह ने बताया कि फैक्टरी पर 25 हजार का आर्थिक दंड भी लगाया गया है और अवैध रूप से चल रही इस फैक्ट्री के विरुद्ध कार्रवाई के लिए नोएडा प्राधिकरण के उद्योग विभाग को सूचित किया गया है जो इस संबंध में फैक्टरी पर कार्रवाई करेंगे।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned