west up [email protected]:00 PM: यहां पढ़ें आज दिनभर की बड़ी खबरें

शाहबेरी गांव में जमींदोज हुई 2 बिल्डिंग के बाद में मौके पर बदबू फैलने लगी है

By: virendra sharma

Published: 20 Jul 2018, 02:07 PM IST

नोएडा. शाहबेरी गांव में जमींदोज हुई 2 बिल्डिंग के बाद में मौके पर बदबू फैलने लगी है। 60 घंटे बाद भी एनडीआरएफ का रेस्क्यू अभियान जारी है। मौके से बदबू आने लगी है। कई लोग अभी अपनों की तलाश में आस लगाए बैठे है। परिवार के लोगों को भी चमात्कार होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि मलबे में अभी ओर भी शव हो सकते है। उधर, जिला स्वास्थ्य विभाग ने मौके पर एंटी इंफेेक्शन स्प्रे कराया है, ताकि संक्रमण न फैले। वहीं दूसरी खबर मेरठ से है। यहां बसपा के पूर्व सांसद हाजी शाहिद अखलाक के भाई की मीट फैक्ट्री में गैस रिसाव से तीन की मौत हो गई। बुलंदशहर के जटिया सीएचसी में पेट दर्द से एक पीड़िता अस्पताल परिसर में फर्श पर पड़ी तड़पती रही, लेकिन अस्पताल प्रशासन ने इलाज करने की जहमत नहीं उठाई।

शाहबेरी हादसा: बदबू फैलने से लोगों का जीना हुआ दुश्वार
राजधानी दिल्ली से सटे यूपी के ग्रेटर नोएडा के गांव शाहबेरी में 2 बिल्ड़िग जमींदोज हो गई। हादसे में 9 की जान जा चुकी है। करीब 60 घंटे बीत जाने के बाद भी एनडीआरएफ की टीम का रेस्कयू आॅपरेशन जारी है। वहीं मौके पर बदबू फैल रही है। माना जा रहा है कि अभी बिल्डिंग में शव हो सकते है, जिसकी वजह से बदबू आने से संक्रमण फैल सकता है। मौके से अभी तक 9 शव बरामद किए जा चुके है। यहां कई शव क्षति विक्षित हालत में मिले है। उसके बाद भी कई परिवार अपनो को तलाश रहे है। परिवार के लोगों की माने तो उन्हें उम्मीद है कि कोई चमात्कार हो सकता है। दरअसल में अभी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है। यहां और भी कई ऐसी बिल्डिंग है, जो धराशाई होने की कगार पर है। इनमें रहने वालों की चिंता बढ चुकी है। साथ ही घर के बाहर दिन और रात गुजार रहे है। दरअसल में कई बिल्डिंग में

पूरी खबर पढ़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करेंः

शाहबेरी हादसा: बदबू फैलने से लोगों का जीना हुआ दुश्वार, संक्रमण फैलने का खतरा

बसपा के पूर्व सांसद के भाई की मीट फैक्ट्री में गैस रिसाव होने से तीन युवकों की मौत हो गई। बसपा के पूर्व सांसद हाजी शाहिद अखलाक के भाई राशिद अखलाक की हापुड़ मार्ग पर मीट फैक्ट्री है। बताया गया है कि फैक्ट्री के टैंक में काफी समय से समस्या आ रही थी, जिसकी सफाई को लेकर राशिद ने बाहर से मजदूरों को बुलाया था। खरखौदा क्षेत्र बिजौली गांव निवासी योगेंद्र व गुड्डू तथा गाजियाबाद के साहिबाबाद निवासी सत्यवान को बुलाया गया था। गुरुवार शाम तीनों युवक टैंक के अंदर घुसकर सफाई कर रहे थे। जब काफी देर बाद भी वे बाहर नहीं निकले तो फैक्ट्री के अन्य मजूदरों ने टैंक के अंदर झांककर देखा तो वे बेहोश अवस्था में पड़े मिले। टैंक के अंदर तीनों युवकों को बेहोश पड़ा देख हड़कंप मच गया। इन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

पूरी खबर पढ़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करेंः

बसपा के इस पूर्व सांसद के भाई की मीट फैक्ट्री में तीन युवकों की मौत से मच गया हड़कंप, जमकर हुआ हंगामा

पेट में अचानक हुआ दर्द तो फर्श पर गिर गई महिला
बुलंदशहर में लचर स्वास्थ्य व्यवस्था का मामला सामने आया है। जटिया सीएचसी में पेट दर्द से एक पीड़िता अस्पताल परिसर में फर्श पर पड़ी तड़पती रही, लेकिन अस्पताल प्रशासन ने उसे उठाने की जहमत नहीं उठाई। बताया गया है कि उसे इलाज कर छुट्टी दे दी गई थी, लेकिन उसे दौबारा से गुरुवार शाम को पीड़िता के पेट में तेज दर्द हुआ और परिजन उसे लेकर फिर सीएचसी पहुंचे। यहां तेज दर्द होने के कारण वह अस्पताल परिसर के फर्श पर ही लेट गई। वहीं आरोप है कि महिला कई घंटे दर्द के कारण फर्श पर लेटी रही लेकिन अस्पताल प्रशासन के किसी भी कर्मचारी ने सुध नहीं ली।

पूरी खबर पढ़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करेंः

पेट में अचानक हुआ दर्द तो फर्श पर गिर गई महिला, तभी पहुंच गया कैमरा और सच्चाई आ गई सामने

Show More
virendra sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned