'बात निकलेगी तो दूर तलक जायेगी'

'बात निकलेगी तो दूर तलक जायेगी'
rahul modi

sandeep tomar | Publish: Dec, 28 2016 04:23:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

भाजपा नेता ने गांधी परिवार पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए कहा कि बात निकलेगी तो दूर तलक जायेगी

नई दिल्ली/नोएडा। नोटबन्दी पर कांग्रेस के सवालों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बचाव करते हुए भाजपा ने कहा कि कांग्रेस को ये बताना चाहिए कि उसके पचास साल से अधिक के शासनकाल में इस तरह का सिस्टम क्यों विकसित हुआ जिसके कारण भ्रष्टाचार के हजारों  विषवृक्ष तैयार हो गए। पार्टी ने सीधा गांधी परिवार पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए कहा कि बात निकलेगी तो दूर तलक जायेगी।

तो इस वजह से याद आ रही जनता

पार्टी के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने संवाददाताओं को बताया कि आज प्रधानमंत्री से नोटबन्दी और भ्रष्टाचार पर सवाल पूछने वाले राहुल गांधी उस समय कहां थे जब उनके यूपीए के शासनकाल में रोज नए घोटाले हो रहे थे। बीजेपी नेता ने सवाल किया कि जिस कांग्रेस की नींद कामनवेल्थ घोटाला, कोयला घोटाला और हेलिकॉप्टर घोटाले में भी नहीं टूटी थी, आज उन्हें आम आदमी की चिंता कैसे सताने लगी। पार्टी ने कहा कि कहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष की ये बौखलाहट इसलिये तो नहीं है क्योंकि अगस्ता हेलिकॉप्टर की जांच अब सीधे उनके घर तक पहुंच चुकी है।

बता दें कि अगस्ता हेलीकॉप्टर घोटाले में पूर्व सेनाध्यक्ष एसपी त्यागी की गिरफ्तारी तक हो चुकी है। उन पर इस डील में भारी रकम घूस में लेने का आरोप है। उन पर इस मामले में केस चल रहा है और वे इस समय जमानत पर बाहर हैं। बीजेपी ने आरोप लगाया है कि इस डील में सीधे-सीधे गांधी परिवार को भी घूस की मोटी रकम पहुंचाई गयी है।

इसलिए हमलावर हुई भाजपा

दरअसल संसद सत्र में ही राहुल ने यह कहकर सनसनी फैला दी थी कि उनके पास सीधे प्रधानमंत्री के भ्रष्टाचार में लिप्त होने के सबूत हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें संसद में बोलने नहीं दिया जा रहा है और अगर वे बोलेंगे तो भूकम्प आ जाएगा।

संसद में पीएम के खिलाफ न बोल पाने वाले राहुल तब से लगातार हमलावर हैं और वे सहारा-बिड़ला परिवार की कम्पनियों से पीएम को घूस दिए जाने के सवाल को उठा रहे हैं। नोटबन्दी पर भी उन्होंने सीधे पीएम को निशाने पर ले रखा है। कांग्रेस के स्थापना के 132वें दिवस पर भी उन्होंने पीएम से सवाल पूछा और जानना चाहा कि अब तक सरकार को कालेधन के खिलाफ लड़ाई में कितनी रकम बरामद हुई। उन्होंने पीएम पर नोटबन्दी का एकतरफा फैसला लेने का आरोप लगाते हुए सवाल किया कि क्या उन्होंने नोटबन्दी का फैसला लेने के पहले आरबीआई या किसी अन्य आर्थिक विशेषज्ञ से सलाह लिया था। राहुल ने नोटबन्दी पर लाइनों में हो रही मौतों पर सवाल कर बीजेपी को रक्षात्मक होने को मजबूर कर दिया।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned