बसपा-सपा गठबंधन पर भारी पड़ेगा भाजपा का यह मास्टरप्लान!

—यूपी में भाजपा के विजयी रथ को रोकने के लिए बसपा, सपा व रालोद गठबंधन कर चुकी हैं

—भाजपा ने यूपी में 2019 लोकसभा चुनाव में 73 प्लस सीट जीतने का लक्ष्य रखा है

 

By: virendra sharma

Published: 02 Mar 2019, 10:53 AM IST

नोएडा. यूपी में भाजपा के विजयी रथ को रोकने के लिए बसपा, सपा व रालोद गठबंधन कर चुकी हैं। उधर, भाजपा ने यूपी में 2019 लोकसभा चुनाव में 73 प्लस सीट जीतने का लक्ष्य रखा है। इसकी वजह से भाजपा नई-नई रणनीति पर फोकस कर रही है। हर स्तर पर भाजपा कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं। लोकसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने बूथ लेवल पर बूथ कमिटियों को मजबूत करना शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ें: देश के सबसे बड़े यूट्यूबर को मिला दादा साहेब फाल्के पुरस्कार, कुछ ही समय में बन गया करोड़पति

बनाया यह प्लान

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा बूथ को मजबूत कर रही है। भाजपा ने हर बूथ पर बूथ लेवल एजेंट, बूथ अध्यक्ष और बूथ पालक की टीम बनाई है। बूथ अध्यक्ष की अगुवाई में 21 सदस्यों की टीम भाजपा ने तैयार की हैं। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और पीएम नरेंद्र मोदी इन टीमों का मार्गदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 हजार जगहों पर बूथ को मजबूत करने के लिए कार्यकर्ता व पार्टी पदाधिकारियों को दिशा-निर्देश दे चुके है। वहीं यूपी में अमित शाह भी जगह—जगह बूथ लेवल कार्यकर्ताओं से मीटिंग कर टिप्स दे चुके हैं।

वोटरों को बूथ तक लाने का रखा यह लक्ष्य

चुनाव को देखते हुए भाजपा ने बूथ कमिटियों के सदस्यों को नई जिम्मेदारी सौंपी है। पार्टी की तरफ से बूथ कमिटियों के सदस्यों को पन्ना प्रमुख का नाम दिया है। हर बूथ की मतदाता सूची के एक पन्ने की जिम्मेदारी एक कार्यकर्ता की तय की है। यह कार्यकर्ता पन्ना प्रमुख होगा। यह प्रमुख अपने पन्ने के वोटरों को मतदान के दिन पोलिंग बूथ तक लाने का काम करेगा। भाजपा ने हर पन्ना प्रमुख को अपने पन्ने के 50 प्रतिशत वोटरों को पोलिंग बूथ तक लाने का लक्ष्य रखा है। भाजपा के वेस्ट यूपी प्रवक्ता गजेंद्र शर्मा के मुताबिक हर बूथ को मजबूत किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: सपा की इन सीटों पर टिकी शिवपाल की नजर, तैयार किया यह बड़ा प्लान

BJP PM Narendra Modi
virendra sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned