Hindi Diwas 2018 : अगर आप अपनी मातृ भाषा हिंदी से सचमुच करते हैं प्यार, तो जरूर देखें ये फिल्में

Hindi Diwas 2018 : बॉलीवुड की कई फिल्मो ने मातृ भाषा हिंदी को बढ़ावा दिया है। इसी के आसपास घूमती है इन फिल्मों की कहानी, हिंदी दिवस पर बाॅलीवुड फिल्में आज भी देखी जाती है। जिन्हें लोग काफी खुश होकर देखते है।

Nitin Sharma

September, 1412:50 PM

Noida, Uttar Pradesh, India

नोएडा।14 सितंबर को मातृभाषा यानि Hindi Diwas हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है।वहीं धीरे धीरे हिंदी के घटते महत्व को लेकर भी यह hindi language भाषा अक्सर चर्चा में रहती है।इतना ही नहीं मातृ भाषा हिंदी को लेकर bollywood movie बाॅलीवुड मूवी भी बनी हैं।जो खासी हिट होने के साथ ही बहुत ज्यादा पसंद की गर्इ है। हिंदी भाषा को बढ़ावा देने के लिए एक या दो बाॅलीवुड मूवी नहीं बल्कि HINDI MEDIUM हिंदी मीडियम से लेकर English vinglish इंग्लिश विंग्लिश आैर 1975 में बनी film फिल्म चुपके चुपके भी सुर्खियों में रही है।एेसी ही हिंदी दिवस पर कुछ आैर बाॅलीवुड फिल्में आज भी देखी जाती है। जिन्हें लोग काफी खुश होकर देखते है। देखिये ये है वो फिल्मे जो हिंदी भाषा काे देती है बढ़ावा।

वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें- पढाई के साथ गौ सेवा कर रहे है युवकों ने मुख्यमंत्री से मांगी मदद

हिंदी भाषा को लेकर बनी है, बाॅलीवुड की ये हिट फिल्मे

बाॅलीवुड में बनने वाली ज्यादातर फिल्मे हमारे समाज या फिर किसी घटना आैर इतिहास के पन्नों पर आधारित होती है। एेसे ही कुछ फिल्मे हमारी मातृ mother tongue hindi भाषा हिंदी को लेकर भी बनी है। इनमें मुख्य फिल्मे कुछ सालों पहले आर्इ english vinglish इंग्लिश-विंग्लिश से लेकर नमस्ते लंदन, हिंदी मीडियम hindi medium आैर 1975 के समय की फिल्म चुपके चुपके से लेकर 1979 में आर्इ फिल्म movie-golmall गोलमाल है।इन बाॅलीवुड फिल्मों में दिखाया गया है कि कैसे हम हिंदी को बोलने में शर्माने लगे है।वहीं नमस्ते लंदन में कैसे अभिनेता अक्ष्य कुमार अंग्रेजों के बीच गर्व के साथ अपनी मातृ भाषा बोलने के साथ ही उन्हें इसकी विशेषता आैर अंग्रेजी के विषय में समझाते है। एेसे में इन फिल्मों की चर्चा आम दिनों के साथ ही हिंदी दिवस पर होना लाजमी है।

यह भी पढ़ें-Paytm Money app से म्यूचुअल फंड में भी कर सकेंगे निवेश तो मिलेगा ये बड़ा फायदा

बाॅलीवुड पर आधारित इन फिल्मों का रहा है क्रेज

हिंदी भाषा के इर्द गिर्द घुमतनी 1975 में आई फिल्म चुपके-चुपके है । यह एक कॉमेडी फिल्म हैं।जिसकी कहानी मातृभाषा हिंदी के आसपास ही घुमती दिखती है।इस फिल्म में पुराने आैर बड़े अभिनेता धर्मेंद्र, अमिताभ बच्चन आैर जया बच्चन नजर आए है।वहीं दूसरी मूवी इसी के चार साल बाद 1979 में गोलमाल आर्इ थी। इस फिल्म ने भी अपने समय में खूब वाह वाही लूटी थी।

नमस्ते लंदन में अक्षय कुमार ने अंग्रेजों को एेसे दिया था हिंदी में जवाब

वहीं बॉलीवुड अभिनेता अक्की यानि अक्षय कुमार ने 2007 में नमस्ते लंदन में हीरो की भूमिका अदा की थी।इस मूवी में उन्होंने हिंदी भाषा से लेकर हिंदी सभ्यता की कहानी पेश की थी।इसमें उन्होंने अंग्रेजों को बहुत ही अलग अदाज में अपनी मातृभाषा हिंदी में जवाब दिया था। इसी के बाद बाॅलीवुड मूवी इंग्लिश विंग्लिश आर्इ थी।इसमें श्रीदेवी ने अभिनय करते हुए हिंदी का मजबूत पक्ष रखने की काेशिश की थी।इस फिल्म की कहानी एक ऐसी महिला पर आधारित है जो विदेश में अंग्रेजी भाषा बोलने पर डगमगाती है।ऐसे में उसके बच्चे उसे स्कूल में होने वाली अभिभावकों की बैठक में लेने जाने में शर्मिंदगी महसूस करते हैं।

इस फिल्म की आज भी रहती है चर्चा

वहीं इसके दो साल बाद मई 2017 में सिनेमाघरों में लगी बाॅलीवुड फिल्म 'हिंदी मीडियम' की कहानी भी हिंदी के इर्द गिर्द ही घुमती नजर आर्इ थी।इस मूवी में इरफान खान ने उम्मदा एेक्टिंग करते हुए हिंदी को बहुत ही अच्छे तरीके से रखा था।इस फिल्म में इरफान की अंग्रेजी भाषा पर पकड़ कम होती है।फिर भी उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद अपने बच्चों को अच्छे स्कूल में दाखिला दिलवा ही देते हैं।

Show More
Nitin Sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned