scriptbsp declares two candidates from charthaval and gangoh seat | मायावती ने खेला बड़ा दांव, दूसरी पार्टियों से आए इन दो नेताओं को तत्काल दिया टिकट | Patrika News

मायावती ने खेला बड़ा दांव, दूसरी पार्टियों से आए इन दो नेताओं को तत्काल दिया टिकट

पश्चिमी यूपी के दो नेता बसपा में शामिल हो गए, जिन्हें गुरुवार को बसपा प्रमुख मायावती ने अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है। कांग्रेस छोड़कर बहुजन समाज पार्टी में शामिल हुए यूपी के पूर्व गृहमंत्री रहे सईदुज़्ज़मां के बेटे सलमान सईद चरथावल विधानसभा की सीट से उम्मीदवार बनाया है। वहीं, इमरान मसूद के भाई को गंगोह सीट से प्रत्याशी बनाया है।

नोएडा

Published: January 13, 2022 04:13:39 pm

यूपी विधानसभा चुनाव के पहले नेताओं के दल बदलने का दौर जारी है। पश्चिमी यूपी के दो नेता बसपा में शामिल हो गए, जिन्हें गुरुवार को बसपा ने अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है। मुजफ्फरनगर जिले के यूपी के पूर्व गृहमंत्री रहे सईदुज़्ज़मां के बेटे सलमान सईद ने बुधवार को बसपा सुप्रीमो मायावती से देर रात मुलाकात की व कांग्रेस छोड़कर बहुजन समाज पार्टी में शामिल हो गए। सईद को बसपा ने चरथावल विधानसभा की सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। इनके साथ ही, सहारनपुर जिले के पूर्व केन्द्रीय मंत्री रशीद मसूद के भतीजे व इमरान मसूद के सगे भाई नोमान मसूद तीन दिन पहले लोकदल छोड़कर, बसपा में शामिल हो गए थे। बसपा ने नोमान को गंगोह विधानसभा की सीट से अपनी पार्टी का उम्मीदवार बनाया है।
mayawati_1_6921634_835x547-m.jpg
उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों की घोषणा होते ही सियासी दलों में उठा-पटक जारी है। पिछले दिनों सहारनपुर की राजनीति बड़ा उलटफेर देखने को मिला था। पूर्व केंद्रीय मंत्री रहे सांसद काजी रशीद मसूद के भतीजे इमरान मसूद ने जहां कांग्रेस छोड़कर समाजवादी पार्टी का दामन थामा था तो वहीं इमरान के भाई नोमान मसूद रालोद छोड़ बसपा में शामिल हुए थे। बता दें कि नोमान मसूद अभी तक दो बार गंगोह से चुनाव लड़े, लेकिन दोनों बार ही वह हार गए थे। रालोद-सपा गठबंधन में समीकरण न बनते देख अब उन्होंने बसपा का दामन थामा था।
यह भी पढ़ें- यूपी विधानसभा चुनाव 2022, कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की देखें सूची

नोमान मसूद को इसका पहले से ही अंदेशा था कि गंगोह सीट पर सपा प्रत्याशी चुनाव लड़ेगा तो उनका पत्ता साफ हो जाएगा। इसलिए उन्होंने मौका मिलते ही बसपा का दामन थाम लिया था। बसपा के कद्दावर नेता शमसुद्दीन राईन के गाजियाबाद स्थित आवास पर उन्हें पार्टी ज्वाइन कराई थी। तभी से यह साफ हो गया था कि गंगोह सीट नाेमान मसूद ही बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले हैं, जिसकी गुरुवार को आधिकारिक घोषणा भी कर दी गई है। माना जा रहा है कि नोमान मसूद का पलड़ा इस बार ज्यादा भारी है।
बता दें कि नोमान ने गंगोह सीट से 2017 में कांग्रेस के टिकट पर किस्मत आजमाई थी, लेकिन मोदी लहर के कारण वह हार गए थे। भाजपा प्रत्याशी प्रदीप चौधरी के सांसद बनने के बाद गंगोह सीट पर 2019 में उपचुनाव हुआ तो नाेमान फिर कांग्रेस के टिकट पर खड़े हुए। लेकिन, दूसरी बार भी वह भाजपा के कीरत सिंह से महज 5 हजार वोटों के अंतर हार गए। माना जा रहा है कि इस बार मोदी लहर नहीं चली तो नोमान सीट आराम से निकाल सकते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

SSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजविराट कोहली ने किसके सिर फोड़ा हार का ठीकरा?, रहाणे-पुजारा का पत्ता कटना तयएसईसीएल ने प्रभावित गांवों को मूलभूत सुविधा देना किया बंद, कोल डस्ट मिले पानी से बर्बाद हो रहे हैं खेततीसरी लहर का खतरनाक ट्रेंड, डाक्टर्स ने बताए संक्रमण के ये खास लक्षण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.