CBI ने पूर्व Income Tax Commissioner के घर व ऑफिस में मारा छापा, मिला इतने करोड़ रुपये का सोना

  • CBI ने पूर्व आयकर आयुक्‍त संजय कुमार श्रीवास्‍तव के घर व ऑफिस में मारा छापा
  • सीबीआई ने करीब 13 घंटे खंगाला नोएडा का सेक्टर-24 स्थित आयकर भवन
  • 2.47 करोड़ के जेवर, 16.14 लाख रुपये कैश और 10 लाख रुपये की घड़ि‍यां मिलीं

By: sharad asthana

Updated: 07 Jul 2019, 11:28 AM IST

नोएडा। पूर्व आयकर आयुक्‍त (Income Tax Commissioner) संजय कुमार श्रीवास्‍तव के घर व कार्यालय में छापेमारी में सीबीआई को करोड़ों रुपये के गहने और लाखों रुपये नगद मिले हैं। सीबीआई ने नोएडा और गाजियाबाद समेत 13 जगहों पर शुक्रवार को छापे मारे थे। छापामार कार्रवाई शनिवार तक जारी रही।

शुक्रवार सुबह पहुंच गई थी घर

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सीबीआई की टीम शुक्रवार सुबह संजय कुमार श्रीवास्‍तव के घर पर पहुंच गई थी। इसके अलावा सीबीआई ने नोएडा के सेक्टर-24 स्थित आयकर भवन में भी छापा मारा था। एसके श्रीवास्‍तव यहां आयकर आयुक्त (अपील) के पद पर तैनात थे। बताया जा रहा है क‍ि सीबीआई ने करीब 13 घंटे तक आयकर भवन को खंगाला है। यहां से कुछ महत्‍वपूर्ण दस्‍तावेजों को भी जब्‍त किया गया है। शुक्रवार रात को सीबीआई टीम आयकर भवन से गई।

यह भी पढ़ें: इंश्योरेंस कंपनी की महिला ट्रेनिंग मैनेजर ने हिंडन नदी में लगाई छलांग, खोज में जुटे गोताखोर

1.30 करोड़ रुपये मिले बैंक खातों में

सीबीआई की प्रेस रिलीज के अनुसार, संजय श्रीवास्‍तव के आवास और कार्यालय समेत 13 जगहों पर छापे मारे गए हैं। इसमें टीम को 2.47 करोड़ के जेवर, 16.14 लाख रुपये कैश और 10 लाख रुपये की घड़ि‍यां मिली हैं। इसके अलावा श्रीवास्‍तव और उनके परिवार के बैंक खातों में करीब 1.30 करोड़ रुपये बैंलेस का भी पता चला है। कार्रवाई में एक बैंक लॉकर के बारे में भी जानकारी मिली है। सीबीआई ने श्रीवास्‍तव के खिलाफ अनुचित लाभ के लिए बैकडेट में अपील आदेश देने को लेकर मामला दर्ज कर लिया है। अभी जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें: उपचुनाव में बूथ कैपचरिंग को लेकर BJP नेता पर लगा प्रधान पुत्र की हत्या का आरोप

यह है मामला

संजय श्रीवास्‍तव ने जून 2019 में 104 आदेश बैकडेट दिसंबर 2018 में जारी किए थे। इनमें से 13 ऑर्डर उनके अधिकार क्षेत्र से बाहर के थे। इसके अलावा 11 जून 2019 से 13 जून 2019 के बीच में ये आदेश इनकम टैक्‍स बिजनेस अप्‍लीकेशन (ITBA) पर अपलोड किए गए थे, जबक‍ि श्रीवास्‍तव को सरकार ने 10 जून को जबरन सेवानिवृत्ति दे दी थी। आपको बता दें कि भ्रष्टाचार के मामले में 10 जून को केंद्र सरकार ने 12 अफसरों को बर्खास्त किया था। उनमें श्रीवास्तव भी शामिल थे। इनकी बर्खास्तगी वित्त मंत्रालय के नियम 56 के तहत की गई थी।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

Show More
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned