प्रियंका गांधी का गिरेबान पकड़ने के मामले में जांच के आदेश, विभाग ने जताया खेद

Highlights

- प्रियंका गांधी का गिरेबान पकड़ खींचने का मामला

- नोएडा पुलिस ने घटना पर व्यक्त किया खेद

- अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार जांच के बाद होगी कार्रवाई

By: lokesh verma

Published: 05 Oct 2020, 10:51 AM IST

नोएडा. डीएनडी पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से शनिवार को एक सिपाही द्वारा की गई बदसलूकी की जांच कमिश्नरेट पुलिस करेगी। जांच की जिम्मेदारी वरिष्ठ महिला अधिकारी को सौंपी गई है। इसके साथ ही बदसलूकी पर नोएडा पुलिस ने खेद व्यक्त किया है। पुलिस के ट्विटर हैंडल पर कहा गया है कि नोएडा पुलिस को इस घटना के लिए खेद है, यह घटना भारी भीड़ नियंत्रित करने के दौरान घटी है। नोएडा पुलिस प्रियंका गांधी से भी खेद प्रकट करती है।

यह भी पढ़ें- भीम आर्मी प्रमुख ने कहा दहशत में परिवार, सरकार दे वाई श्रेणी की सुरक्षा

बता दें कि शनिवार को प्रियंका और राहुल गांधी हाथरस जाने के लिए डीएनडी पर पहुंचे थे। जहां पहले से ही भारी संख्या में कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता पहुंच गए थे। राहुल-प्रियंका के काफिले को हाथरस जाने से रोकने के लिए पहले से ही वहां भारी संख्या मेें पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई थी। जैसे ही कांग्रेसियों को काफिला टोल प्लाजा के पास पहुंचा तो हंगामा खड़ा हो गया। इसी दौरान पुलिस ने कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज कर दिया। प्रियंका और राहुल अपने कार्यकर्ताओं को पुलिस से बचाने लगे।

इसी बची प्रियंका गांधी हेलमेट पहने एक सिपाही ने गिरेबान पकड़ लिया और उन्हें खींचने की कोशिश की। प्रियंका गांधी से इसी बदसलूकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। सोशल मीडिया पर कमिश्नरेट पुलिस के खिलाफ लोगों ने जमकर टिप्पणियां की। इसके बाद बैकफुट पर आई कमिश्नरेट पुलिस नेे मामले की जांच कराने की बात कही। साथ ही बदसलूकी के लिए प्रियंका गांधी से खेद प्रकट किया है।

पुलिस कमिश्नरेट ने स्वत: संज्ञान लिया

अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार ने कहा है कि इस मामले में पुलिस कमिश्नरेट ने स्वत: संज्ञान लिया है। मामले की जांच वरिष्ठ महिला पुलिस अधिकारी से कराई जा रही है। जांच के बाद दंडात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

सिपाही की नहीं हो सकी पहचान

बता दें कि डीएनडी पर प्रियंका गांधी के साथ जिस सिपाही ने बदसलूकी की थी। उस सिपाही की अब तक पहचान नहीं की जा सकी है। पुलिस को जो भी वीडियो और फोटो मिले हैं। उनमें वह सिपाही पूरी तरह से दिखाई नहीं दे रहा है। सिर्फ सिपाही के पीछे का हिस्सा और हेलमेट नजर आ रहा है।

यह भी पढ़ें- हाथरस में जयंत चाैधरी पर लाठीचार्ज के बाद सड़क पर उतरी रालोद, देखें वीडियो

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned