डीएम बी चंद्रकला ने बैंक-बीमा कंपनियों को दी चेतावनी, परेशान किया तो मिलेगी सजा

डीएम बी चंद्रकला ने बैंक-बीमा कंपनियों को दी चेतावनी, परेशान किया तो मिलेगी सजा
DM chandrakala

sandeep tomar | Publish: Dec, 05 2016 07:47:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

डीएम के पास बैंकों और बीमा कंपनियों के अधिकारियों द्वारा लोगों को परेशान करने की शिकायतें पहुंच रही थीं

नोएडा। कलैक्ट्रेट स्थित बचत भवन में जिलाधिकारी ने बैंक अधिकारियों एवं बीमा कम्पनियों के प्रतिनिधियों को निर्देशित किया कि वे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नाम पर किसानों को अनावश्यक परेशान न करें। बल्कि किसानों की भावनाओं को सम्मान देते हुए शासन के निर्धारित मानकों के अनुरूप उनसे प्रीमियम लेकर बीमा की कार्रवाई करने के आदेश दिए। उन्होंने बैंक/बीमा कम्पनियों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि यदि किसी भी बैंक द्वारा किसानों का शोषण करता पाया गया तो बैंक एवं सम्बंधित अधिकारी के विरुद्ध शासन को अवगत कराकर कार्रवाई की जाएगी।

लगातार परेशान हो रहे हैं किसान


नोटबंदी के बाद शहरों के अलावा देश वो मेहनतकश तबका परेशान हो रहा है जो देश के अन्न पैदा करता है। उन्हें बैंकों से रुपया नहीं मिल रहा है। अगर बैंक पास जाते भी हैं तो अधिकारी किसानों को परेशान करने की कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। किसानों ने आरोप लगाया कि किसान प्रतिनिधियों ने बैंकों द्वारा निरीक्षण के नाम शुल्क वसलूने, गन्ना फसल को बीमे से हटाने, तथा अन्य मांगे सामने रखी। जिस पर डीएम चंद्रकला ने जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक व कृषि विभाग के अधिकारियों को कार्रवाई करने के आदेश दिए।

होगी कार्रवाई है


किसानों को परेशान करने वाले बैंकों को मेरठ की डीएम बी चंद्रकला की ओर से साफ कर दिया गया है कि अगर कोई किसान परेशान होता पाया गया, तो उस अधिकारी पर पूरी कार्रवाई की जाएगी। डीएम चंद्रकला ने कहा कि किसानों के कामों को प्राथमिकता आधार पर किया जाए। अगर किसानों द्वारा बताई गई शिकायतों में जरा भी सच्चाई भी निकलती तो वो बैंक अधिकारी अधिक से अधिक दंड के काबिल होगा।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned