ट्रकों के फर्जी दस्तावेज बनाकर रोड पर चलने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 8 गिरफ्तार

Highlights
- 5 ट्रक, फर्जी इंजन नंबर व चेचिस नंबर लगाने के उपकरण, फर्जी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट व फर्जी नंबर प्लेट बरामद
- पंजाब के भटिंड़ा से डेढ़ से तीन लाख रुपये में फर्जी कागजात बनवाता था गैंग

By: lokesh verma

Published: 26 Oct 2020, 05:47 PM IST

नोएडा. सेक्टर-24 थाना पुलिस और एंटी ऑटो थेफ्ट टीम ने ट्रकों के फर्जी कागजात बनाकर रोड पर चलने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। इस गैंग में शामिल ट्रक मालिकों समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गैंग के चार आरोपी अभी फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से पुलिस टीम ने एक कैंटर, एक हाईवा, दो ट्रक 14 टायरा, एक ट्रक12 टायरा, फर्जी इंजन नंबर व चेचिस नंबर लगाने के उपकरण, फर्जी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट व फर्जी नंबर प्लेट बरामद की हैं।

यह भी पढ़ें- स्पा सेंटर पर छापेमारी के दौरान आपत्तिजनक हालत में मिले युवक-युवतियां

एडीसीपी नोएडा जोन-1 रणविजय सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपी फाइनेंस पर ट्रक व हाईवा आदि खरीदते हैं। ये लोग इनकी किस्तें नहीं चुकाते थे और ट्रक को चोरी कराकर खुद ही थानों में ट्रक चोरी की एफआईआर दर्ज करा देते थे। ऐसे वाहनों की सस्ते दामों पर खरीद-फरोख्त होती है। इसके बाद पंजाब के भटिंडा से डेढ़ से तीन लाख रुपये में फर्जी कागजात बनवाते थे। इन कागजात पर जो नंबर होते थे वो ही नंबर ये लोग इन वाहनों के इंजन व चेसिस नंबर पर बदल देते थे। चोरी के ट्रकों के फर्जी कागजात बनवाने और चेसिस व इंजन नंबर बदलकर आरोपी विभिन्न फाइनेंस कंपनियों से दोबारा लोन ले लेते थे। पुलिस पूछताछ में पता चला है कि आरोपियों द्वारा 30 से ज्यादा गाड़ियां इस तरह से एनसीआर में चलवाई जा रही हैं।

फर्जीवाड़ा के बारे में पकड़े गए आरोपी शकील अहमद व शाहनवाज ऐसे वाहन मालिकों के संपर्क में रहते थे जो फाइनेंस पर ट्रक निकलवाते हैं। किस्त जमा न होने पर उन मालिकों से ट्रक चोरी की एफआईआर दर्ज करवाते हैं। इसके बाद उन्हीं ट्रक को खरीद लेते थे। इसके बाद दलाल का काम करने वाले जितेन्द्र उर्फ जतिन से डेढ़ से तीन लाख रुपये में फर्जी कागजात बनवाते थे। इसके बाद आरोपी जियाउल्लहक ट्रकों के इंजन व चेचिस नंबर डालता था। उसके बाद ये फिर दोबारा लोन भी ले लेते थे। पुलिस गिरफ्त में आए आरोपियों के नाम शकील अहमद, शाहनवाज, जिया उल हक, वसीम राणा, हारून, सूरजमल, इन्द्रपाल, हरीश चंद नागर और सागर चौधरी हैं।

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned