1965 व 1971 में पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध लड़ने वाले पूर्व नौसेना प्रमुख को नम आंखों से दी अंतिम विदाई

Highlights
- लंबी बीमारी के कारण हुआ था पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल सुशील कुमार का निधन
- नोएडा में राजकीय सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार
- पूर्व नौसेना प्रमुख को याद कर फूट-फूटकर रोती रही नातिन

नोएडा. नोएडा सेक्टर-21 स्थित जलवायु विहार निवासी पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल सुशील कुमार के पार्थिव शरीर का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। सबसे पहले उनके पार्थिव शरीर को सेक्टर-29 क्राइस्ट चर्च ले जाया गया जहां तीनों सेना के अधिकारियों के साथ लोगों ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। इसके बाद फूलों से सजे वाहन से शवदाह गृह ले जाया गया। जहां उन्हें अंतिम विदाई दी गई।

यह भी पढ़ें- हैदराबाद और संभल की घटनाओं से दुखी प्रियंका गांधी ने की ये बड़ी मांग

बता दें कि 27 नवंबर को लंबी बीमारी के बाद पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल सुशील कुमार का निधन हो गया था। वे 1998 से 2000 के बीच भारतीय नौसेना के प्रमुख रहे थे। पूर्व नौसेना प्रमुख ने 1965 और 1971 में पाकिस्तान के खिलाफ जंग भी लड़ी थी। उन्होंने गोवा को आजादी दिलाने में भी अहम योगदान दिया था।

जानकारी के मुताबिक, पूर्व नौसेना प्रमुख सुशील कुमार का ढाई माह से आरआर हॉस्पिटल दिल्ली और नोएडा के कैलाश हाॅस्पिटल में इलाज चल रहा था। शनिवार को उन्हें हाॅस्पिटल से डिस्चार्ज किया जाना था, लेकिन उससे पहले ही उनका निधन हो गया। शनिवार को नोएडा में उनके पार्थिव शरीर का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान सबसे पहले वाइस एडमिरल अशोक कुमार ने पुष्पगुच्छ के साथ उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की इसके बाद आर्मी चीफ और एयरफोर्स की तरफ से पुष्पगुच्छ अर्पित किए गए।

नम आंखों से परिवारवालों समेत तीनों सेना के जवानों और परिचितों ने पूर्व नौसेना प्रमुख के पार्थिव शरीर को अंतिम विदाई दी। इस दौरान उनकी पत्नी के अलावा बेटी अनीशा, दामाद कैरी व उनके नाती-नातिन भी मौजूद रहे। इस मौके पर नातिन अपने नाना को याद कर फफककर रोती रही।

यह भी पढ़ें- Hyderabad Gangrape: कफन बांधकर सड़कों पर उतरे डाॅक्टर, बोले- दोषियों को भी जिंदा जला दो

Show More
lokesh verma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned