कोरोना से नहीं मिल रही राहत, 24 घंटे में सामने आए इतने केस, एक की मौत

Highlights:

- एक दिन में 186 डिस्चार्ज, जिले में अब तक 21,164 पॉजिटिव,

- 19,691 ने कोरोना को हराया, 1401 का इलाज जारी, अब तक 74 की मौत

By: Rahul Chauhan

Published: 21 Nov 2020, 11:20 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर जिले में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए प्रशासन ने सख्त रूख अख्तियार किया है। लेकिन बढ़ती ठंड और वायु प्रदूषण के चलते उसे अपेक्षित कामयाबी नहीं मिली पा रही है। प्रशासन की तमाम कोशिशों के बावजूद महामारी की आफत से उसे राहत नहीं मिली पा रही है। यही कारण है कि जिले में बीते 24 घंटे में 175 लोग कोविड-19 वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। जबकि कोरोना को हराने वाले 186 लोग अपने-अपने घरों को चले गए। इस बीच, कोरोना ने एक और बुजुर्ग व्यक्ति की जान ले ली। इसके साथ ही महामारी की चपेट में आकर जिले में मरने वालों की तादाद 74 हो गई है।

यह भी पढ़ें: यूपी के इन 13 जिलों में बनेंगे मेडिकल कॉलेज, 15 दिसंबर के पहले शुरू होगा निर्माण

जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. सुनील दोहरे ने बताया कि शुक्रवार को इलाज के दौरान कोरोना संक्रमण के चलते सेक्टर-56 में रहने वाले 72 वर्षीय बुजुर्ग की मौत भी हुई है। संक्रमित व्यक्ति पहले से भी दूसरी बीमारियों से ग्रस्त था। प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग की ओर से शुक्रवार की शाम जारी आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में 175 लोगों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमित लोगों का आंकड़ा 21,164 हो गया है। जबकि 186 लोग स्वस्थ होकर अपने घरों को चले गए। इस तरह जिले में अब तक कोरोना को परास्त करने वालों की संख्या 19,691 हो गई है। गौतमबुद्ध नगर जिले में महामारी की चपेट में आकर अब तक 74 लोग जान गंवा चुके हैं। फिलहाल कुल 1401 लोगों का अभी जिले के विभिन्न कोविड अस्पताल में इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें: कारोबारी के 16 ठिकानों पर IT के छापे, भारी मात्रा में कैश और 121 करोड़ रुपये का काला धन मिला!

शुक्रवार को बोटेनिकल गार्डन बस स्टैंड व दल्लूपुरा बार्डर पर दिल्ली से आने वाले लोगों की रैंडम कोरोना जांच की गई। एंटीजन कोरोना टेस्ट किट से की 179 लोगों की जांच के दौरान नौ व्यक्ति कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें बोटेनिकल गार्डन में 81 लोगों की जांच में पांच पाजिटिव व दल्लूपुरा बार्डर पर 98 लोगों की जांच में चार लोग कोरोना पाजिटिव आए हैं। सभी व्यक्ति बिना लक्षण वाले थे इसलिए उन्हें होम आइसोलेट किया गया है। होम आइसोलेशन के नोडल अधिकारी डॉ. ललित मिश्रा ने बताया कि होम आइसोलेशन में रहे 3478 लोगों को नेगेटिव घोषित किया जा चुका है। वहीं 490 लोग होम आइसोलेट हैं। ऐसे लोगों की लगातार निगरानी की जा रही है। तबियत बिगड़ने पर ऐसे लोग को कोविड अस्पताल में भर्ती कराया जाता है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned