अक्टूबर में बदलने जा रहा ये नियम, बिना हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाले वाहन मालिकों को भरना होगा 10 हजार का जुर्माना

Highlights

- Delhi Transport Department ने जारी किया था नोटिफिकेशन
- मुश्किल में फंस सकते हैं west UP से रोज़ाना दिल्ली जानेवाले वाहन चालक
- जानिए high security number plate बनवाने का पूरा प्रोसेस

By: lokesh verma

Published: 30 Sep 2020, 12:46 PM IST

नोएडा. देशभर में सभी वाहनों के लिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (High security number plate) लगवाना अनिवार्य हो गया है। वाहन मालिकों के लिए अब बिना हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन के साथ चलना आसान नहीं होगा। 30 अक्टूबर से पहले इसे लगवाना अनिवार्य होगा। इसके बाद दिल्ली (Delhi) में प्रवेश करने वाले वाहनों का 10 हजार रुपए का जुर्माना वसूल किया जाएगा। दिल्ली परिवहन विभाग (Delhi Transport Department) अक्टूबर से नियम लागू करने के लिए नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया है।

यह भी पढ़ें- हाथरस गैंगरेप: गुस्से में बॉलीवुड, कंगना बोलीं- सरेआम गोली मार दो तो अक्षय बोले- फांसी पर लटका दो

बता दें कि गाजियाबाद (Ghaziabad) और नोएडा (Noida) से रोजाना एक लाख वाहन दिल्ली आते-जाते हैं। 30 अक्टूबर के बाद हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट नहीं लगवाने पर उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है और पूरे दस हजार रुपए का चालान भी भरना पड़ सकता है। दिल्ली सरकार ने इसकी जानकारी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और हरियाणा (Haryana) के जिलों भेज दी है। इसके चलते परिवहन विभाग में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के संबंध में पूछताछ भी एकाएक बढ़ गई है।

दरअसल, एक अप्रैल 2019 से नए वाहनों को रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट तभी दिया जाता है, जब हाईसिक्योरिटी नंअर प्लेट लग जाती है। इसके अलावा लगभग सात हजार पुराने वाहनों में भी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाई जा चुकी है। दोपहिया वाहनों में 300 रुपए और चार पहिया वाहनों में 600 रुपए में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाई जाती है।

ऐसे लगवाएं High security number plate

यहां बता दें कि प्रदेश सरकार की ओर से नोएडा में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाने लिए 92 वाहन विक्रेता डीलर्स काे चिन्हित किया है। हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाने के लिए सबसे पहले bookmyfsrp.com uttarpradesh पर जाना होगा। साइट पर जाते ही निजी और व्यावसायिक वाहनों का विकल्प आएगा। विकल्प चुनने के बाद आपको पेट्रोल (Petrol), डीजल (Diesel), इलेक्ट्रिक व्हीकल (Electric Vehicle), सीएनजी (CNG) और सीएनजी+पेट्रोल (CNG+Petrol) का विकल्प चुनना होगा।

इसके बाद वाहनों की कैटेगरी सामने आएगी। इस पर आपको मोटरसाइकिल, कार, स्कूटर, ऑटो और भारी वाहन आदि विकल्प में से एक को चुनकर आपको वाहन कंपनी के विकल्प को चुनना होगा। इसके बाद आपको राज्य का विकल्प भरना होगा, जिसके बाद आपको डीलर्स के विकल्प दिखने लगेंगे। इसके बाद फीस जमा करने के बाद तय तारीख पर वाहन में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाई जा सकती है।

यह भी पढ़ें- फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी को तमंचा दिखा रोका, फिर डेढ़ लाख की लूट कर फरार हुए बदमाश

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned