खनन माफिया का विरोध करने पर परिवार पर फ़ायरिंग और धारदार हथियार से हमला, पिता-पुत्र समेत 4 घायल

Highlights

-पुलिस ने पांच लोगों के ख़िलाफ़ मुकदमा दर्ज किया

-एक आरोपी गिरफ़्तार, चार फरार

By: Rahul Chauhan

Published: 16 Sep 2020, 12:23 PM IST

नोएडा। एक्सप्रेस वे थाना क्षेत्र के यमुना पार इलाके में बालू खनन का विरोध करने पर खनन माफिया ने एक परिवार पर हमला कर दिया। गोली लगने और तलवार के वार से पिता और दो पुत्र घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं पीड़ित पक्ष की शिकायत पर कोतवाली एक्सप्रेस वे पुलिस ने आरोपी 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मुख्य आरोपी सतबीर को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य की तलाश की जा रही है।

दरअसल, नोएडा के थाना एक्सप्रेस वे में स्थित गांव याकूबपुर और उससे सटा गांव दलेलपुर जो थाना नॉलेज पार्क में पड़ता है। इन दोनों गांव में दो परिवार हैं। एक सतवीर का परिवार दलेलपुर का। वहीं मोनू का परिवार याकूबपुर का है। सतबीर खनन का काम करता है और कई बार वह मोनू के खेत से मिट्टी के खनन को लेकर इन दोनों परिवारों में झगड़ा हुआ था। मंगलवार को जब सतबीर के लोग मिट्टी का खनन करने मोनू के खेत पर पहुंचे तो मोनू के परिवार की तरफ से उन्हें ऐसा करने से रोका गया। आरोप है कि इसके बाद सतबीर के लोग हमलावर हो गये और फायरिंग की और धारदार हथियार से वार भी किया गया। हमले में मोनू के पिता संती तलवार लगने व भाई सोनू और रविंदर गोली लगने से घायल हो गए। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। हालांकि तब तक आरोपी फरार हो गए।

एडिशनल डीसीपी ने बताया मोनू पक्ष के चार लोग घायल हुए हैं। इसमें से एक की हालत गंभीर बनी हुई है। जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस की टीम ने मौके से खनन के लिए इस्तेमाल किया जा रहा ट्रैक्टर, एक ट्रॉली और एक गाड़ी व दो हथियार बरामद किए हैं। 2 खोखा कारतूस 18 जिंदा कारतूस भी बरामद किए गए हैं और 12 बोर की कारतूस भी मिली है। पुलिस ने मोनू की तहरीर पर मुकदमा कायम कर सतबीर को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य फरार चार पांच लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। हथियारों की जांच चल रही है । मौके से बरामद राइफल लाइसेंसी लग रही है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned