मोदी के मंत्री ने मायावती और अखिलेश के बारे में किया ये खुलासा

मोदी के मंत्री ने मायावती और अखिलेश के बारे में किया ये खुलासा
mayawati and akhilesh

sandeep tomar | Publish: Dec, 12 2016 08:28:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

केंद्रीय मंत्री ने बताया उस शख्स का नाम जिसने दोनों सरकारों को कमा कर दिया

नोएडा। कैशलेस अर्थव्यवस्था को लेकर लोगों में जागरूक के लिए छलेरा पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने इस मौके पर अखिलेश आैर मायावती पर भी जमकर हमला बोला। लोगों को कैशलेस के बारे में संबोधित करते हुए महेश शर्मा ने मायावती आैर अखिलेश की सरकारों को कालेधन की सरकार बताया। इसके साथ ही यादव सिंह के मुददे को उठाया।

पहले मायावती आैर फिर अखिलेश को कमा कर दे रहे थे यादव सिंह

महेश शर्मा ने कहा कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी दोनों की थाली में बड़े वाला छेद है। उन्होंने कहा कि, अखिलेश यादव ने सरकार बनते हुए कहा था कि यादव सिंह की जांच करुंगा, लेकिन यादव सिंह ने पहले मायावती को कमा कर दिया फिर अखिलेश सरकार को दे रहे थे। ये दोनों सरकार उस पर कार्रवार्इ करने के बजाए, उससे कमवा रही थी। एेसे में बीजेपी ने यादव सिंह को गिरफ्तार कर सीबीआई जांच करार्इ।

शिवपाल आैर अखिलेश की लड़ार्इ पर भी ली चुटकी

इस मौके पर डाॅ. महेश शर्मा ने सपा सरकार पर तंज कस्ते हुए कहा कि सपा सरकार में चाचा भतीजे की लड़ाई लूट के पैसे की बटाइ को लेकर थी। लूट के पैसे को बांटने के चक्कर में लड़ाई की जा रही है। इसी के चलते दोनों एक दूसरे के पक्ष आैर विपक्ष में खड़े है। वहीं पूरी जनता परेशान है।

मायावती ने कम दामों में ली किसानों की जमीन


सपा के बाद बसपा पर भी महेश शर्मा ने हमला बोलते हुए कहा कि मायावती 3 करोड़ रुपये लेकर टिकट बांटती हैं। उन्होंने पैसा कमाने के लिए नोएडा ग्रेटर नोएडा के किसानों की जमीनों को औने—पौने दामों में खरीदकर बड़े—बड़े लोगो दोगुना दामों में बेच दिया। इसका सीधा मुनाफा मायावती ने ही कमाया। बाकी जिस किसान की जमीन ली गर्इ। वह आज भी गरीब का गरीब ही है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned