प्रदूषण फैलाने वालों की अब खैर नहीं, एक दिन में वसूला गया सवा करोड़ का जुर्माना

Highlights:

-ईपीसीए ने 15 अक्टूबर से एनसीआर में लागू किया है ग्रैप सिस्टम

-प्रदूषण फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई कर रहा प्रशासन

By: Rahul Chauhan

Published: 28 Oct 2020, 01:51 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नोएडा। दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण फिर एक बार तेजी से बढ़ रहा है। जिसके चलते शहरों का एयर क्वालिटी इंडेक्स खराब होता जा रहा है। इस कड़ी में नोएडा और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने मंगलवार को विशेष अभियान चलाया। जिसके तहत कार्रवाई करते हुए सवा करोड़ से अधिक का जुर्माना वसूला गया। इसके साथ ही प्रदूषण फैलाने वाले और ग्रैप का उल्लंघन करने वालों को सख्त हिदायत भी दी गई है।

दरअसल, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में 15 अक्टूबर से ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रेप) लागू है। जिसके तहत लोगों को प्रदूषण नहीं फैलाने व कई तरह के नियम लागू किए गए हैं। ईपीसीए के इस आदेश को लागू कराने की जिम्मेदारी जिला प्रशासन व प्राधिकरण की है। जिसके चलते गौतमबुद्ध नगर की तीनों प्राधिकरण लगातार ऐसे लोगों पर कार्रवाई कर रही हैं जो ग्रैप का उल्लंघन कर रहे हैं।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने जानकारी देते हुए बताया कि वायु प्रदूषण रोकने के लिए प्राधिकरण ने मंगलवार को एक विशेष अभियान चलाया। जिसके तहत ग्रेटर नोएडा में स्थित 25 बिल्डरों पर कार्रवाई की गई। इस दौरान प्रत्येक बिल्डर से पांच-पांच लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया है। इस तरह से कुल सवा करोड़ रुपये की राशि जुर्माने के तौर पर वसूल की गई है।

वहीं नोएडा प्राधिकरण ने विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर 10 लाख 82 हजार रुपये का जुर्माना वूसला। नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ऋतु माहेश्वरी ने बताया कि कुल 380 टन सी एण्ड डी मलबा उठाया गया। साथ ही उसे निस्तारण करने के लिए सेक्टर 80 स्थित सी एंड डी प्रोसेसिंग प्लांट पर भेजा गया। मंगलवार को कार्रवाई करते हुए दस लाख का जुर्माना ऐसे लोगों से वसूल किया गया जो प्रदूषण फैलाते पाए गए।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned