खुलेआम सड़कों शराब पीने वालों की अब खैर नहीं, सबक सिखाने को शुरू हुआ विशेष अभियान

वाहनों की चेकिंग और सार्वजनिक स्थानों पर अधिकारियों ने किया पैदल मार्च। पुलिस कमिश्नर ने अभियान चलाने के दिए निर्देश। पकड़े गए लोगों का जमानत बॉन्ड भरकर छोड़ा गया।

By: Rahul Chauhan

Published: 22 Jun 2021, 09:48 AM IST

नोएडा। कोरोना महामारी के मामलों में कमी आने के बाद गौतम बुद्ध नगर जिले में जिंदगी एक बार फिर ढर्रे पर लौटने लगी है। हालांकि नाईट कर्फ्यू लगे होने के बावजूद लोग धड़ल्ले से कोविड-19 नियमों का उल्लंघन कर सार्वजनिक स्थलों पर शराब का सेवन कर रहे हैं। इसी के मद्देनजर पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्ध नगर ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने और क्षेत्र की सुरक्षा की व्यवस्था सुदृढ़ करने के उद्देश्य से पुलिस वालों का सार्वजनिक स्थानों पर पैदल मार्च कर विशेष अभियान चलाया है। इस अभियान के दौरान सार्वजनिक स्थलों पर शराब पीने वाले 363 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

यह भी पढ़ें: सपा शासनकाल में 70 फीसदी बना पुल आज भी अधूरा, जान जोखिम में डालकर नदी पार कर रहे लोग

दरअसल, देर रात नोएडा और ग्रेटर नोएडा की सड़क पर वाहनो की चेकिंग और सार्वजनिक स्थानों पर पुलिस अधिकारियों व पुलिसकर्मियों ने पैदल मार्च किया। जनपद में गौतमबुद्ध नगर पुलिस कमिश्नर के निर्देश पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने और क्षेत्र की सुरक्षा की व्यवस्था की जांच के लिए ये अभियान चलाया गया है। इस दौरान जनपद के समस्त थाना क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध बीती रात को सघन अभियान चलाया गया और जनपद के सभी थाना क्षेत्रों की पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वाले 363 लोगों को पकड़ा गया।

यह भी पढ़ें: पति का अनोखा बंटवारा, तीन दिन पत्नी तो तीन दिन गर्लफ्रेंड के साथ रहेगा, फिर संडे बिताएगा इनके साथ

पुलिस कमिश्नर के पीआरओ ने बताया कि कई लोग कानून का उल्लंघन कर सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीते हुए पकड़े गये। जिनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 290 के तहत यह कार्रवाई की गयी। इनमें से किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया। उनका चालान किया गया है। उन्हें थाना लाया गया और जमानती बांड भरने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned